अमित शाह ने कांग्रेस को बताया \’राजा-रानियों\’ की पार्टी

10

नादौन. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि यह \’राजाओं और रानियों\’ की पार्टी है तथा हिमाचल प्रदेश में भले ही उसकी ओर से मुख्यमंत्री पद के कई चेहरे हों लेकिन हकीकत में किसी को मौका नहीं मिलेगा. शाह ने यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर चौतरफा हमला किया और कहा कि इसने केवल भाई-भतीजावाद को आगे बढ़ाया है तथा विकास के नाम पर कुछ नहीं किया है.

गृह मंत्री ने राज्य के इस क्षेत्र में मतदाताओं को लुभाने के लिए पाकिस्तान के खिलाफ र्सिजकल स्ट्राइक, अयोध्या में राम मंदिर निर्माण, \’एक रैंक, एक पेंशन\’ लागू करने और कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निरस्त करने का भी जिक्र किया. राज्य में 12 नवंबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है. शाह ने मतदाताओं से हिमाचल प्रदेश को देश का नंबर एक राज्य बनाने के लिए एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को चुनकर बार-बार सरकार बदलने की परंपरा को तोड़ने का आग्रह किया. उन्होंने अगले पांच साल में राज्य को नशामुक्त बनाने का भी वादा किया.

वह नादौन में भाजपा प्रत्याशी विजय अग्निहोत्री के समर्थन में प्रचार कर रहे थे. उन्होंने नादौन से कांग्रेस उम्मीदवार का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘कांग्रेस के पास विकास के नाम पर कहने के लिए कुछ नहीं है और हिमाचल प्रदेश में कुछ सीट जीतने के लिए उसने आठ से 10 सीट पर उम्मीदवारों को मुख्यमंत्रमंत्री पद का उम्मीदवार बताया है. यहां भी मुख्यमंत्री पद का आकांक्षी है. लेकिन वह नहीं जानता कि वह कांग्रेस में मुख्यमंत्री नहीं बनेगा, क्योंकि मुख्यमंत्री बनने के लिए किसी का बेटा या बेटी होना जरूरी है और आपका नंबर कभी नहीं आएगा.’’

गृह मंत्री ने कहा, \”यह (कांग्रेस) राजाओं और रानियों की पार्टी है तथा किसी को भी मौका नहीं मिलेगा. क्या लोकतंत्र में राजाओं-रानियों के लिए जगह है…. और लोकतंत्र में केवल उन्हें ही जगह मिलती है जो लोगों के कल्याण के लिए काम करते हैं तथा हमने यहां एक ऐसा उम्मीदवार उतारा है जिसने विधायक न होने के बावजूद आपकी सेवा करना जारी रखा है.\” शाह ने उन बहादुर माताओं के प्रति भी सम्मान व्यक्त किया जिन्होंने देश की सुरक्षा सुनिश्चित करने में मदद के लिए अपने बेटों को सशस्त्र बलों में भेजा है.

उन्होंने कहा, \”देश भर से कांग्रेस नेता पर्यटन के लिए हिमाचल प्रदेश आए हैं. मैं उनसे कहना चाहता हूं, हिमाचल के युवाओं ने देश की सेवा की है और इसकी सीमाओं की रक्षा की है तथा अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है. पहला परमवीर चक्र किसे प्रदान किया गया था- हिमाचली सोमनाथ शर्मा को.’’ शाह ने कहा, \”40 साल से वे \’एक रैंक, एक पेंशन\’ की मांग करते रहे, लेकिन बधिर कांग्रेस ने कभी उनकी आवाज नहीं सुनी. (नरेंद्र) मोदी जी 2014 में सत्ता में आए और 2015 में उन्होंने \’एक रैंक, एक पेंशन\’ लागू की, जिसकी लागत 40,000 करोड़ रुपये थी.\” उन्होंने लोगों से कहा कि वे कांग्रेस से पूछें कि वह 60 साल के शासन के बाद भी सेवानिवृत्त सैनिकों को \’एक रैंक, एक पेंशन\’ क्यों नहीं दे सकी.

अनुच्छेद 370 के बारे में शाह ने कहा कि कांग्रेस ने 60 साल तक शासन किया और \”जवाहरलाल नेहरू के \’उपहार\’ को वर्षों तक एक बच्चे की तरह सहलाया तथा हमारा कश्मीर भारत के साथ अपना बंधन बनाने में विफल रहा.\” उन्होंने संसद में अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के लिए विधेयक लाए जाने पर कांग्रेस नेताओं की चेतावनी का उल्लेख किया और कहा, ‘‘उन्होंने मुझे चेतावनी दी कि अगर इसे पारित किया गया तो खून की नदियां बहेंगी.\” शाह ने कहा, ‘‘राहुल बाबा, खून की नदियों को भूल जाओ, किसी की हिम्मत नहीं है कि एक छोटा कंकड़ भी फेंके और हमारा कश्मीर भारत के ताज के रूप में फल-फूल रहा है.\”

पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद पर ‘‘निष्क्रियता’’ के लिए कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, \”सोनिया-मनमोहन सरकार के दौरान 10 साल तक \’आलिया, मालिया, जमालिया\’ भारत में घुसे और हमारे जवानों को मार डाला तथा कांग्रेस की कुछ भी कहने की हिम्मत नहीं थी, लेकिन जब मोदी सरकार आई तो पाकिस्तान के इस तरह के कृत्यों का हमारे बहादुर सैनिकों ने पाकिस्तान के अंदर र्सिजकल एअर स्ट्राइक के रूप में मुंहतोड़ जवाब दिया.’’ उन्होंने कहा कि दुनिया में एक नया संदेश गया है कि कोई भी भारत की सेना और सीमाओं की तरफ नहीं देख सकता, अन्यथा नतीजा भुगतान होगा.

शाह ने विभिन्न चुनावी वादे करने को लेकर भी कांग्रेस पर हमला किया और कहा, \”जिस पार्टी ने 60 साल तक देश पर शासन किया, वह अब हिमाचल प्रदेश के लोगों को गारंटी जारी कर रही है.\” उन्होंने यह भी दावा किया कि कांग्रेस तुष्टीकरण की अपनी नीति के कारण अयोध्या में राम मंदिर बनाने में विफल रही. शाह ने कहा कि मोदी के शासन के दौरान न केवल राम मंदिर, बल्कि कई अन्य मंदिरों और धार्मिक स्थलों का पुर्निनर्माण किया गया है तथा महत्व दिया गया है. शाह ने कहा, \”मैं हिमाचल प्रदेश के लोगों से कहना चाहता हूं कि हम अगले पांच वर्षों में राज्य को नशामुक्त कर देंगे और पूरे देश से नशीली दवाओं के कारोबार को खत्म कर देंगे.\”

youtube channel thesuccessmotivationalquotes