नयी दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने छह राज्यों में सात विधानसभा सीट पर उपचुनाव में रविवार को हो रही मतगणना में उत्तर प्रदेश, हरियाणा, ओडिशा तथा बिहार में चार सीट पर शुरुआती बढ़त बना ली है जबकि तेलंगाना के मुनूगोड़े में सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) आगे चल रही है.

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने बिहार के मोकामा निर्वाचन क्षेत्र में बढ़त बनाई है जबकि शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) की उम्मीदवार रुतुजा लटके ने मुंबई में अंधेरी (पूर्व) सीट पर उपचुनाव के लिए पहले चरण की मतगणना में आसान बढ़त बना ली है.
तेलंगाना में मुनूगोड़े विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में टीआरएस उम्मीदवार ने भाजपा के अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी से मामूली बढ़त बना रखी है. तीन चरण की मतगणना के बाद टीआरएस के उम्मीदवार को 21,589 वोट मिले जबकि भाजपा प्रत्याशी को 21,174 वोट मिले हैं. कांग्रेस उम्मीदवार को महज 5,563 वोट मिले हैं.

हरियाणा के आदमपुर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी भव्य बिश्नोई अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी तथा कांग्रेस उम्मीदवार जयप्रकाश से पांच चरण की मतगणना के बाद 10,228 मतों से आगे चल रहे हैं. रुझानों के अनुसार, भव्य बिश्नोई को अभी तक 28,669 वोट मिले हैं जबकि कांग्रेस के जयप्रकाश को 18,441 वोट मिले हैं.

उत्तर प्रदेश में गोला गोकर्णनाथ विधानसभा सीट पर उपचुनाव में मतगणना में भाजपा प्रत्याशी अमन गिरि ने अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी से करीब 25,000 मतों की आसान बढ़त बना ली है. अधिकारियों ने 18 चरण की मतगणना के बाद बताया कि गिरि को अभी तक 73,371 वोट मिले हैं जबकि समाजवादी पार्टी के विनय तिवारी को 48,739 वोट मिले हैं.

निर्वाचन आयोग के रुझानों के अनुसार, ओडिशा के भद्रक जिले में धामनगर उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार सूर्यवंशी सूरज ने बीजू जनता दल (बीजद) की प्रत्याशी एवं अपनी निकटतम प्रतिद्वंद्वी अंबाती दास पर 3,261 मतों की बढ़त बना ली है. आयोग के अनुसार, सूरज ने शुरुआती चार दौर की मतगणना के बाद 18,181 और दास ने 14,920 मत हासिल किए हैं. वहीं, कांग्रेस उम्मीदवार बाबा हरेकृष्णा सेठी को 557 मत मिले हैं.

बिहार में दो विधानसभा क्षेत्रों के उपचुनाव के लिए जारी मतगणना के शुरुआती रुझान में मोकामा सीट पर राजद जबकि गोपालगंज सीट पर भाजपा ने बढ़त बना ली है. आयोग के रुझानों के अनुसार, मोकामा में शुरुआती दौर की मतगणना के बाद राजद उम्मीदवार नीलम देवी भाजपा उम्मीदवार सोनम देवी से 12,152 मतों से आगे हैं. वहीं, गोपालगंज में भाजपा की कुसुम देवी ने राजद उम्मीदवार मोहन प्रसाद गुप्ता पर 637 मतों की बढ़त बना रही है.

मुंबई की अंधेरी (पूर्वी) विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए अभी तक की मतगणना के बाद शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) की उम्मीदवार ऋतुजा लटके ने आसान बढ़त बना रखी है. एक अधिकारी ने बताया कि अब तक हुई 5,624 मतों की गिनती में लटके को 4,277 वोट मिले हैं. इन सात विधानसभा सीट पर उपचुनाव तीन नवंबर को हुआ था.

उपचुनाव में भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे भजनलाल के पोते भव्य बिश्नोई और राजद की नीलम देवी प्रमुख उम्मीदवारों में शामिल हैं. नीलम देवी के पति अनंत ंिसह को अयोग्य ठहराए जाने के बाद बिहार के मोकामा में उपचुनाव कराना पड़ा.
जिन सात सीट पर उपचुनाव हुआ है, उनमें से तीन भाजपा के पास थीं, जबकि दो सीट पर कांग्रेस का कब्जा था. वहीं, शिवसेना और राजद के पास एक-एक सीट थी.

बिहार के उपचुनाव में मुख्य मुकाबला भाजपा और राजद के बीच है, जबकि हरियाणा में भाजपा का मुकाबला कांग्रेस, इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) और आम आदमी पार्टी (आप) से है. भाजपा का तेलंगाना में मुकाबला तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) से, उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) से और ओडिशा में बीजू जनता दल (बीजद) से है. भाजपा गोला गोकर्णनाथ सीट और धामनगर सीट बरकरार रखना चाहती है और उसने सहानुभूति पाने के लिए उन मौजूदा विधायकों के बेटों को मैदान में उतारा है, जिनके निधन के कारण उपचुनाव जरूरी हुआ.

गोला गोकर्णनाथ सीट भाजपा विधायक अरंिवद गिरि के निधन के कारण छह सितंबर को रिक्त हो गई थी. इस सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने हिस्सा नहीं लिया, इसलिए सपा उम्मीदवार और गोला गोकर्णनाथ के पूर्व विधायक विनय तिवारी और भाजपा के अमन गिरि के बीच सीधा मुकाबला है.

धामनगर सीट पर कुल पांच प्रत्याशियों में इकलौती महिला उम्मीदवार बीजू जनता दल (बीजद) की अबंती दास हैं. इस सीट पर भाजपा विधायक बिष्णु चरण सेठी के निधन के कारण उपचुनाव हुआ. भाजपा ने सेठी के बेटे सूर्यबंशी सुराज को मैदान में उतारा है. तेलंगाना के मुनूगोड़े में भाजपा और सत्तारूढ़ टीआरएस ने आक्रामक प्रचार किया. इस सीट पर कांग्रेस विधायक ने इस्तीफा दे दिया था और अब वह भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं.

भजनलाल के छोटे बेटे कुलदीप बिश्नोई के इस्तीफा देकर कांग्रेस से भाजपा में शामिल होने के कारण आदमपुर सीट पर उपचुनाव जरूरी हुआ. आदमपुर सीट पर वर्ष 1968 से भजनलाल परिवार का कब्जा है. अदामपुर सीट से दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री भजनलाल नौ बार और उनकी पत्नी जस्मा देवी एक बार तथा उनके बेटे कुलदीप चार बार विधायक रहे.

वहीं, बिहार की मोकामा सीट पर इसके पहले राजग का कब्जा था, जबकि गोपालगंज सीट राजद के पास थी. मोकामा सीट से भाजपा पहली बार चुनाव मैदान में है, क्योंकि इसके पहले पार्टी ने यह सीट अपने सहयोगियों को दे दी थी. भाजपा और राजद, दोनों ने ही स्थानीय बाहुबली नेताओं की पत्नी को मैदान में उतारा है. मोकामा सीट से भाजपा ने सोनम देवी को टिकट दिया था.

बिहार की गोपालगंज सीट से भाजपा ने कुसुम देवी को मैदान में उतारा है, जो दिवंगत विधायक सुभाष ंिसह की पत्नी हैं. यहां से राजद के उम्मीदवार मोहन गुप्ता और बसपा की उम्मीदवार इंदिरा यादव हैं. इंदिरा पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद के साले साधु यादव की पत्नी हैं. महाराष्ट्र में अंधेरी (पूर्व) से शिवसेना की रुतुजा लटके के उपचुनाव जीतने के आसार हैं, क्योंकि भाजपा ने खुद को मुकाबले से बाहर कर लिया है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस ने लटके की उम्मीदवारी का समर्थन किया है.

youtube channel thesuccessmotivationalquotes