जब सूर्या बल्लेबाजी कर रहा हो तो डगआउट में सहज होकर रहा जा सकता है: रोहित

10

मेलबर्न. भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने जिंबाब्वे के खिलाफ टी20 विश्व कप के मैच में जीत के नायक रहे सूर्यकुमार यादव की जमकर प्रशंसा करते हुए रविवार को यहां कहा कि जब वह बल्लेबाजी कर रहा हो तो डगआउट में सहज होकर रहा जा सकता है. सूर्यकुमार ने विश्व में टी20 के नंबर एक बल्लेबाज की ख्याति के अनुरूप प्रदर्शन करते हुए एक और बेहतरीन पारी खेली जिससे भारत ने जिंबाब्वे को 71 रन से हराकर अपने ग्रुप में शीर्ष पर रहते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाई जहां उसका सामना इंग्लैंड से होगा.

रोहित ने मैच के बाद कहा,‘‘ जब वह बल्लेबाजी कर रहा होता है तो डगआउट में सहज होकर रहा जा सकता है. जब वह बल्लेबाजी करता है तो काफी संयम के साथ खेलता है.’’ सूर्यकुमार ने 25 गेंदों पर नाबाद 61 रन की पारी खेली जबकि इससे पहले केएल राहुल ने अर्धशतक जमाया जिससे भारत ने पांच विकेट पर 186 रन बनाए. जिंबाब्वे की टीम इसके जवाब में 17.2 ओवर में 115 रन पर आउट हो गईं.

रोहित ने कहा,‘‘ सूर्यकुमार जो टीम के लिए कर रहा है वह असाधारण है. वह क्रीज पर उतरते ही अपना नैर्सिगक खेल खेलना शुरू करता है और दूसरे खिलाड़ियों पर से दबाव हटाता है. हम उसकी योग्यता से अच्छी तरह वाकिफ हैं और उसके क्रीज पर रहने से दूसरे छोर का बल्लेबाज सहज होकर खेल सकता है.’’ भारतीय कप्तान ने मैच के बारे में कहा,‘‘ यह बहुत अच्छा आॅलराउंड प्रदर्शन था जैसा कि हम चाहते थे. हमने क्वालीफाई कर लिया था लेकिन हम जैसा खेलना चाहते थे, उसी तरह का खेल दिखाना चाह रहे थे और हमने ऐसा ही किया.’’

रोहित ने कहा कि एडिलेड ओवल में सेमीफाइनल के लिए परिस्थितियों से जल्द से जल्द सामंजस्य बिठाना महत्वपूर्ण होगा.
उन्होंने कहा,‘‘ हमारे लिए परिस्थितियों से जल्द से जल्द सामंजस्य बिठाना महत्वपूर्ण होगा. हमने वहां एक मैच खेला था लेकिन हमें जल्द से जल्द तालमेल बिठाना होगा. इंग्लैंड की टीम अच्छी है और यह शानदार मुकाबला होगा.’’ क्रिकेट जगत भले ही सूर्यकुमार यादव की बल्लेबाजी का दीवाना बन गया हो लेकिन मैन आॅफ द मैच बने इस बल्लेबाज ने कहा कि वह कुछ अलग हटकर करने की कोशिश नहीं करते हैं और रणनीति के अनुसार बल्लेबाजी करने का प्रयास करते हैं.

सूर्यकुमार ने कहा,‘‘ जब मैं और हार्दिक पंड्या बल्लेबाजी कर रहे थे तो मेरा मानना है कि रणनीति स्पष्ट थी. उसने कहा सकारात्मक होकर खेलो और देखते हैं हम कहां तक पहुंचते हैं. हमने गेंद को अच्छी तरह से हिट करना शुरू किया और फिर 20वें ओवर तक नहीं रुके.’’ उन्होंने कहा,‘‘ मेरी रणनीति हमेशा स्पष्ट होती है. मैं कुछ अलग हटकर करने की कोशिश नहीं करता हूं. मैं जिस तरह से नेट पर बल्लेबाजी करता हूं उसी तरह से मैच में भी खेलता हूं.’’

जिंबाब्वे के कप्तान क्रेग इर्विन ने कहा कि टूर्नामेंट के शुरू में अच्छा खेल दिखाने के बाद उनकी टीम सही राह से भटक गई. जिंबाब्वे ने शुरू में पाकिस्तान को हराकर बड़ा उलटफेर किया था. उन्होंने कहा,‘‘ मुझे लगता है कि हम अपनी रणनीति में बदलाव कर सकते थे. सूर्य कुमार ने आखिर में बेहतरीन बल्लेबाजी की और रिची की यार्कर को अच्छी तरह से खेला जो कि हमारे रणनीति का प्रमुख हिस्सा था. वहां हम इसमें थोड़ा बदलाव कर सकते थे.’’