कनाडा सरकार ने चीन की कंपनियों को लीथियम परिसंपत्तियां बेचने का दिया आदेश

10

ओटावा. कनाडा की सरकार ने बैटरी तथा उच्च प्रौद्योगिकी उत्पादों में इस्तेमाल होने वाले ‘ महत्वपूर्ण खनिजों’ की आपूर्ति में विदेशी हस्तक्षेप को सीमित कर दिया है, जिसके बाद चीन की तीन कंपनियों को कनाडा स्थित लिथियम खनन परिसंपत्तियों को बेचने का आदेश दिया गया है.

पश्चिमी देशों और चीन के बीच लिथियम, रेयर अर्थ्स (धातु तत्वों), कैडमियम समेत मोबाइल फोन, पवन चक्कियों, सौर सेल, इलेक्ट्रिक कार और अन्य उभरती प्रौद्योगिकियों में इस्तेमाल होने वाले अन्य खनिजों के स्रोतों पर नियंत्रण को लेकर तनाव बढ़ता जा रहा है जिसके बाद बुधवार को यह आदेश आया है. चीन में सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी इलेक्ट्रिक कार, स्वच्छ ऊर्जा तथा अन्य प्रौद्योगिकी उद्योगों को बढ़ावा दे रही है. चीन के खनिक अफ्रीका, लातिनी अमेरिका में उत्पादन में निवेश कर रहे हैं.

कनाडा के नवोन्मेष मंत्री फ्रैंकोइस फिलिप शैंपेन ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि महत्वपूर्ण खनिजों के उत्पादन में अन्य देशों की सरकारी कंपनियों की भागीदारी पर पाबंदी लगाई जा रही है. उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार के निवेश को अपवादस्वरूप ही मंजूरी दी जाएगी. दरअसल, यूक्रेन पर रूस के हमले से वैश्विक तेल एवं गैस बाजारों में व्यवधान आने के बाद तथा चीन के साथ तनाव के बीच पश्चिमी देशों की सरकार चाहती है कि औद्योगिकी आपूर्ति श्रृंखलाओं पर उनके सहयोगियों का नियंत्रण हो.