भेंट-मुलाकात में डोंगरगढ़ विधानसभा के घुमका गांव पहुंचे मुख्यमंत्री: लगाई सौगातों की झड़ी

8

रायपुर. भेंट-मुलाकात में राजनांदागांव जिले की डोंगरगढ़ विधानसभा के ग्राम घुमका पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों की मांग पर क्षेत्रवासियों के लिए अनेक महत्वपूर्ण घोषणाएं की. उन्होंने घुमका को नगर पंचायत बनाने, घुमका में स्वामी आत्मा अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने की घोषणा की. पूर्व में घुमका को तहसील बनाने की घोषणा के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी 3 महीने के भीतर घुमका का तहसील कार्यालय पूर्ण तहसील के रूप में कार्य करने लगेगा. उन्होंने बघेरा में सहकारी बैंक की शाखा खोलने, रुसे बांध की नहरों में नहर लाइनिंग, घुमका से गोपालपुर सड़क चौड़ीकरण, तेंदुनाला जलाशय में नहर लाइनिंग और उसके विस्तार, जेवर कट्टा जलाशय में नहर लाइनिंग, हडुवा, खारा और मुरमुंदा हाई स्कूल के हायर सेकंडरी स्कूल में उन्नयन की घोषणा की. इस अवसर पर खाद्य मंत्री अमरजीत भगत और विधायक भुवनेश्वर शोभाराम बघेल भी उपस्थित थे.

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ महतारी के छायाचित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलन कर भेंट-मुलाकात की शुरुआत की. यहां मुख्यमंत्री बघेल ने विभिन्न विभागों की योजनाओं के तहत हितग्रहियो को पोषण किट, सिलाई मशीन, गैस सिलेंडर, बीज किट सहित विभिन्न सामग्रियों का वितरण भी किया. मुख्यमंत्री ने ग्राम घुमका में रानी अवंति बाई की प्रतिमा का अनारवरण किया. उन्होंने ग्राम देवरीडीह में मां शीतला माता मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की.

मुख्यमंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि शासन की योजनाओं का लाभ लोगों तक पहुंच रहा है या नहीं, यह जानने आया हूँ. हम लोग योजनायें बनाते हैं इनका जमीनी क्रियान्वयन कैसा है यह देखने आप लोगों के बीच आया हूँ. उन्होंने कहा कि पंथी नृत्य से आप लोगों ने स्वागत किया. फिर करी लड्डू से तौला. आपके स्नेह से अभिभूत हूँ. किसानों की ऋणमाफी से अपनी बात शुरू करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राजीव गांधी न्याय योजना से किसानों को हमने लाभान्वित किया. गन्ने की सबसे ज्यादा कीमत हमारे यहां है. कोदो कुटकी हम लोग खरीद रहे हैं. इस साल फसल काफी अच्छी है, घुमका में मैंने देखा कि मुरूम वाली भूमि है फिर भी भरपूर फसल है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज डोंगरगांव में पारधी जाति के लोगों ने जाति प्रमाणपत्र की बात आई. मध्यप्रदेश में कुछ चुनिंदा जिले में यह जाति अधिसूचित थी. अब मैंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि पारधी जाति के लोगों को जाति प्रमाणपत्र के लिए विशेष रूप से कार्य करें और जो तकनीकी दिक्कत है उसे दूर करें. बघेल ने कहा कि भेंट मुलाकात से कितना लाभ होता है, एक पारधी जाति की बेटी ने अपनी बात रखी और प्रदेश भर के पारधी जाति के लोगों को इसका लाभ मिलेगा.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रूरल इंडस्ट्रियल पार्क से जुड़कर युवाओं को लाभ लेने की अपील की. उन्होंने कहा कि गौठानों में विभिन्न आर्थिक गतिविधियां संचालित कर ग्रामीण महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही हैं. इससे उनका आत्म विश्वास बढ़ा है. गौठानों में जमीन, शेड, बिजली-पानी की व्यवस्था की गई है. गौठानों को रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के रूप में विकसित किया जा रहा है. गांव के युवाओं को गौठानों से जुड़कर वहां आर्थिक गतिविधियां संचालित करनी चाहिए और वहां उपलब्ध सुविधाओं का लाभ उठाना चाहिए. अभी जयवंतीन को मैंने सुना. उसने अपने पति को भी आर्थिक रूप से सहयोग किया. महिलाएं मजबूत हो रही हैं. रीपा योजना से उनकी आर्थिक स्थिति और मजबूत होगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे परसों चिरचारी से एक किसान का फोन आया, उसने गोबर बेचकर अच्छा आर्थिक लाभ कमाया. बेटे को नीट की तैयारी कराई और बेटे का सलेक्शन कांकेर मेडिकल कॉलेज में हुआ. ऐसे फोन आते हैं और लोगों का जीवन इन योजनाओं से संवरता है तो मुझे खुशी होती है.

भेंट-मुलाकात के दौरान स्व-सहायता समूह की सचिव रामेश्वरी वर्मा ने मुख्यमंत्री को बताया कि हम लोगों ने वर्मी कम्पोस्ट के माध्यम से 3 लाख रुपये कमाया है. अब मछलीपालन कर रहे हैं. महेश्वर साहू ने बताया कि उनका 90,000 ऋण माफी हुआ है. इस साल का 3 किश्त राजीव गांधी न्याय योजना का मिल चुका है. खपरिकला निवासी लोकेश साहू ने बताया कि 14 क्विंटल धान बेचा है. इससे मिली राशि और राजीव गांधी किसान न्याय योजना से मिली राशि से पत्नी के लिए गहना खरीदेगा. लोकेश साहू ने ख़ुशी से बताया कि वह मुख्यमंत्री से एक बार और भेंट कर चुका है और सीएम हाउस में चाय नाश्ता करके आए हैं. ग्राम खैरझिटी की सावित्री सिन्हा ने बताया उनका राशन कार्ड बना है 17 रुपये में शक्कर मिलती है. उसने मुख्यमंत्री को बेटा कहकर संबोधित किया और कहा शासन की योजना से खुश हैं. ग्राम बीरेझर के थान सिंह बघेल ने बताया कि राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की 3 किस्त मिल गई है. बहुत अच्छी योजना है, थान सिंह ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से संवाद करते हुए गोधन न्याय योजना के बारे में नारायण यादव ने बताया कि मैं ढाई साल से गोबर बेच रहा हूँ, 85 हजार का गोबर बेच चुका हूं. मैंने सोचा नहीं था कि इतना लाभ गोबर से होगा. नारायण ने बताया कि इससे 75 हजार की गाय खरीदी. ये गाय 16 लीटर दूध देती हैं. मुढ़ीपार के रमेश अग्रवाल ने बताया कि हाट बाजार स्वास्थ्य सेवा योजना से अच्छा लाभ हो रहा है. प्यारेलाल साहू ने कहा कि मुझे बीपी शुगर है. अब बाजार में चेक भी करा लेता हूँ. अब स्वास्थ्य के बारे में निश्चिंत हूँ. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से धनेश्वरी ने कहा कि मेरे पिता जी नहीं हैं. भाई छोटे हैं. मैंने बायो से 73 प्रतिशत अंक से पास किया है. नर्सिंग में एडमिशन हुआ है. पैसे चाहिए. कितना पैसा चाहिए, मुख्यमंत्री ने पूछा. धनेश्वरी ने कहा, जितना दे दें. मुख्यमंत्री ने कहा कि आपको एक लाख दे देंगे. धनेश्वरी ने कहा कि 2 लाख दे दीजिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि ठीक है अभी डेढ़ लाख रुपये देंगे, फिर कॉलेज के फाइनल में मुझसे मिलने आना और पढ़ाई के बारे में बताना, फिर तुम्हारी आखरी किश्त दे देंगे.

खिलेश्वरी यादव ने बताया कि मुख्यमंत्री सुपोषण योजना से बच्चे का पोषण तेजी से सुधरा. मुख्यमंत्री ने कहा कि बढ़िया, बच्चा मन रिंगि चिंगी रहय, अच्छा नई हे. खिलेश्वरी ने बताया कि बच्चे को क्लब फुट है, इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इलाज कराएंगे. ग्राम तिलाई के सफिल खान ने मुख्यमंत्री बघेल को अपनी समस्या सुनाई, उन्होंने बताया कि मुझे टीवी हो गया था, पेट में अल्सर की बीमारी भी थी, जिससे उन्होंने रायपुर के हॉस्पिटल में इलाज करवाया. इलाज में 50 हजार की राशि का लाभ स्मार्ट कार्ड से मिला, राशि के आभाव में इलाज पूर्ण नहीं करा पा रहे हैं उन्होंने बताया कि उसकी आर्थिक स्थिती ठीक नही है. मुख्यमंत्री ने संवेदनशीलता से बातों को सुना और कहा कि विषेश सहायता योजना के तहत पूरा इलाज कराया जाएगा. सेवक यादव ने बताया कि मैं दिव्यांग हूँ, 10 साल पहले साईकल मिली थी. अब फिर चाहिए. उनकी बात सुनकर मुख्यमंत्री बघेल ने कहा- कलेक्टर आपको बैटरी वाली गाड़ी दिलाएंगे.
**

youtube channel thesuccessmotivationalquotes