चंबी/सुजानपुर. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को हिमाचल प्रदेश की चुनावी लड़ाई को ‘विकास की दुश्मन’ कांग्रेस और ‘विकास समर्थक’ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच बताया. उन्होंने कहा कि यदि उनकी पार्टी फिर से चुनी जाती है तो लोगों को ‘‘दोहरा लाभ’’ मिलेगा क्योंकि वह उनके लिए और अधिक काम करने में सक्षम होंगे.

राज्य के विधानसभा चुनाव में चार में से अपनी आखिरी चुनावी रैली को हमीरपुर जिले के सुजानपुर में संबोधित करते हुए मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधा और उस पर राज्य के लोगों के साथ ‘विश्वासघात’ करने का आरोप भी लगाया. मोदी ने दावा किया कि अगर कांग्रेस राज्य में सत्ता में आती है तो वह उनकी सरकार को काम नहीं करने देगी. उन्होंने कहा कि यदि उनके लिए ‘‘अनुकूल’’लोग यहां सत्ता में आते हैं तो वह हिमाचल के वास्ते बहुत कुछ कर सकते हैं और उन्हें राज्य के विकास को सुनिश्चित करने के लिए मौजूदा सत्तारूढ़ पार्टी को सत्ता से बाहर कर देने की परिपाटी को तोड़ने के लिए कहा.

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस स्वभाव से ही विकास की दुश्मन है. भाजपा ही हिमाचल को विकास की नई ऊंचाइयों पर ले जा सकती है. इसलिए भाजपा सरकार के लिए सत्ता में बने रहना जरूरी है… सीधा सा हिसाब है.’’ मोदी ने हमीरपुर जिले के सुजानपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए लोगों से कहा, ‘‘हिमाचल में भाजपा की सरकार बननी चाहिए ताकि दिल्ली (केंद्र सरकार) को इसका फायदा मिल सके. इससे दोहरा लाभ होगा.’’ उन्होंने कहा कि यहां के लोगों और मुद्दों से वाकिफ होने के नाते वह दिल्ली में रहकर राज्य के लिए काम कर सकेंगे. उन्होंने 2017 में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के चुने जाने के बाद इसकी प्रगति के लिए उठाये गये कई कदमों के बारे में जानकारी दी.

मोदी ने कांगड़ा जिले के चंबी में अपनी पहली रैली में कहा कि हिमाचल प्रदेश में ‘डबल इंजन’ वाली स्थिर और मजबूत सरकार की जरूरत है. उन्होंने कांग्रेस को ‘अस्थिरता, भ्रष्टाचार और घोटालों’ के लिए जिम्मेदार ठहराया. राज्य के कांगड़ा जिले में सर्वाधिक विधानसभा सीट हैं. कांगड़ा में रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस यदि राज्य में सरकार बनाती है तो केवल विकास को बाधित ही करेगी.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस राज्य में विपक्षी दल के रूप में अपना कर्तव्य निभाने में विफल रही है. उन्होंने आश्चर्य जताया कि क्या उसके केंद्रीय नेता कभी चुनाव के अलावा जनता से जुड़े मुद्दों को लेकर हिमाचल आए या लोकसभा में इसी तरह का कोई मामला उठाया है.
मोदी ने कहा कि अगर कांग्रेस विपक्ष में अपनी भूमिका नहीं निभा सकती तो सत्ता में आने पर क्या करेगी. प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा के लिए देश और जवानों की सुरक्षा सर्वोपरि है. उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के मतदाताओं ने नया इतिहास रचने का मन बना लिया है और भाजपा की सरकार तय है.

उन्होंने कांग्रेस पर सेना प्रमुख का ‘‘अपमान’’ करने और सैनिकों की तुलना ‘‘गुंडों’’ से करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने ‘र्सिजकल स्ट्राइक’ पर भी सवाल उठाए थे, जिसमें पाकिस्तान में आतंकवादी शिविरों को भी निशाना बनाया गया था. उन्होंने कहा, ‘‘हमारी सरकार ने ‘‘एक रैंक-एक-पेंशन’’ लागू किया, जबकि कांग्रेस ने इसे दशकों तक लंबित रखा था.’’ हाल के विधानसभा उपचुनाव परिणामों में भाजपा ने सात में से चार सीटों पर जीत दर्ज की थी जबकि कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली.

इन उपचुनाव परिणामों का उल्लेख करते हुए मोदी ने कहा कि उनकी पार्टी को उन राज्यों में स्वीकार किया जा रहा है जहां वह पारंपरिक रूप से मजबूत नहीं थी. उन्होंने कहा कि यह भाजपा के विकास कार्यों और गरीबों के हित में उठाये गये कदमों के कारण है कि वह विभिन्न राज्यों में सत्ता में फिर से चुनी गई है. मोदी ने कहा कि कांग्रेस के प्रति लोगों में इतना अधिक गुस्सा है कि वह उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और तमिलनाडु सहित कई राज्यों में दशकों से सत्ता में नहीं लौटी है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ‘‘भ्रष्टाचार, घोटाला, अस्थिरता और विकास में बाधा’’ की गारंटी है. उन्होंने कहा, ‘‘आपको कांग्रेस को (सरकार) में दोबारा प्रवेश नहीं करने देना चाहिए.’’ मोदी ने कहा कि जब कांग्रेस राज्य की सत्ता में थी, 2014-17 के बीच गरीबों के लिए केंद्र की आवास योजना के तहत केवल 10 मकानों का निर्माण किया गया था, जबकि भाजपा के सत्ता में आने के बाद इनमें से लगभग 10,000 मकान बनाए गए थे.

उन्होंने कहा, ‘‘केंद्र में अपने शासनकाल के दौरान, कांग्रेस ने छोटे राज्य हिमाचल के लिए केंद्र सरकार की योजनाओं के कार्यान्वयन के लिए 40 प्रतिशत खर्च करना अनिवार्य कर दिया था लेकिन उनकी सरकार ने हिस्सा घटाकर 10 फीसदी कर दिया था.’’ उन्होंने कहा कि राज्य विकास में सभी छोटे और पर्वतीय राज्यों के लिए एक उदाहरण और प्रेरणा हो सकता है.

उन्होंने राजमार्गों के निर्माण और राज्य को केंद्रीय शैक्षणिक संस्थानों के आवंटन सहित कई परियोजनाओं को गिनाया. उन्होंने गरीबों के लिए मुफ्त अनाज, मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन और गरीबों के लिए आवास योजनाओं का विशेष उल्लेख किया. उन्होंने कहा कि जहां 2014 तक पुलिस बलों में एक लाख महिलाएं थीं, वहीं अब उनकी संख्या बढ़कर करीब 2.25 लाख हो गई है. उन्होंने जोर देकर कहा कि राज्य के लोगों ने एक नया इतिहास लिखने का फैसला किया है.

मोदी ने कहा कि कांग्रेस की सरकार केवल दो राज्यों-राजस्थान और छत्तीसगढ़ में बची है. उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या उन्होंने कभी वहां से विकास की खबरें सुनी हैं, वहां से कांग्रेस के भीतर मचे घमासान की खबरें आती हैं. प्रधानमंत्री ने अनेक राज्यों में सत्ता में रहने के बाद भाजपा के दोबारा सरकार में आने का जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा की पहचान जनता के बीच सुशासन और गरीब समर्थक नीतियों की है और इसलिए वह बार-बार सरकार में आती है.

उन्होंने कहा कि भाजपा केवल वही कहती है, जो कर सकती है और फिर अपने वादों को पूरा करने के लिए पूरी ताकत से जुट जाती है.
मोदी ने कहा कि अन्य राजनीतिक दलों की जड़ें अब भी परिवार के शासन और वोट बैंक की राजनीति में हैं. राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए 12 नवंबर को मतदान होगा.

youtube channel thesuccessmotivationalquotes