मरवाही वन मंडल के जैतरणी नाला में 5 करोड़ रूपए की लागत से भू-जल संवर्धन संबंधी विविध संरचनाओं का निर्माण

vedantbhoomidigital
0 0
Read Time:2 Minute, 24 Second

रायपुर : राज्य शासन की महत्वाकांक्षी नरवा विकास योजना के तहत गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले के मरवाही वन मंडल के अंतर्गत जैतरणी नाला में 5 करोड़ रूपए की लागत राशि से 94 हजार 331 भू-जल संवर्धन संबंधी संरचनाओं का निर्माण किया गया है। यह निर्माण कैम्पा मद की वार्षिक कार्ययोजना 2019-20 में स्वीकृत राशि से वन परिक्षेत्र खोड्री में हुआ है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 6 जनवरी को गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिला प्रवास के दौरान जैतरणी नाला में नवनिर्मित विविध संरचनाओं का भी लोकार्पण करेंगे।

इस संबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारी कैम्पा व्ही. श्रीनिवास राव ने बताया कि कैम्पा मद के अंतर्गत मरवाही वन मंडल के जैतरणी नाला में 5 करोड़ रूपए की राशि से 94 हजार 331 भू-जल आवर्धन संबंधी संरचनाओं का निर्माण किया गया है। इनमें 2 लाख 83 हजार रूपए की लागत राशि से 130 गली प्लग, एक करोड़ रूपए से 91 हजार 977 कन्टूर ट्रेंच, 4 लाख 73 हजार रूपए से 817 ब्रशवुड चेक डेम तथा 46 लाख 64 हजार रूपए की लागत राशि से 1 हजार 311 लूज बोल्डर चेक डेम का निर्माण शामिल है।

इसी तरह 44 लाख रूपए की लागत राशि से 31 सी.सी.टी., 68 लाख रूपए से 31 ग्रेबियन, 8 लाख रूपए से 11 परकोलेशन टेंक, 1 करोड़ 21 लाख रूपए से 3 स्टाप डेम तथा 32 लाख रूपए की लागत राशि से 20 कंटूर बंड का निर्माण किया गया है। इनके निर्माण से वनांचल क्षेत्र के 12 गांव लाभान्वित होंगे। साथ ही इससे 312 एकड़ रकबा में अतिरिक्ति सिंचाई सुविधा का लाभ किसानों को मिलेगा।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Next Post

मुख्यमंत्री बघेल ने कोरबा जिले के संस्कृति, पुरातत्व एवं पर्यटन स्थल पर आधारित पुस्तिका का किया विमोचन

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज ओपन थियेटर सतरेंगा में कोरबा जिले के संस्कृति, पुरातत्व एवं पर्यटन स्थलों की जानकारी विषयक पुस्तिका का विमोचन किया। इसका प्रकाशन जिला पुरातत्व संग्रहालय कोरबा द्वारा किया गया है। मुख्यमंत्री ने इस दौरान कहा कि कोरबा जिले के पुरातात्विक और प्राचीन स्थल प्रदेश ही […]