Coronavirus : देश में सामने आए कोरोना के 62,714 नये मामले

vedantbhoomidigital
0 0
Read Time:5 Minute, 18 Second

नई दिल्ली : देश में कोरोना संक्रमण एक बार फिर रफ्तार पकड़ता नजर आ रहा है. पिछले 24 घंटे में 62 हजार से ज्यादा नये मामले आने के बाद राज्यों की चिंता बढ गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में भारत में कोरोना संक्रमण के 62,714 मामले सामने आए जबकि 28,739 लोग डिस्चार्ज हुए. वहीं 312 लोगों की मौत हुई है. देश में अब कुल मामले 1,19,71,624 हो चुके हैं. सक्रिय मामलों की बात करें तो यह 4,86,310 है. कोरोना की चपेट में आकर अबतक कुल 1,61,552 लोगों की मौत हो चुकी है.

इधर कोरोना के साप्ताहिक मामलों में वृद्धि के बीच केंद्र ने उन 12 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए जांच की संख्या महत्वपूर्ण रूप से बढ़ाने समेत पांचसूत्री निषिद्ध रणनीति जारी की जहां कोरोना के मामलों में इजाफा देखने को मिला है.

वहीं दूसरी ओर महाराष्ट्र सरकार ने राजनीतिक और धार्मिक सहित सभी प्रकार की सभाओं के आयोजन पर पूर्ण प्रतिबंध की शनिवार को घोषणा की. कई राज्यों में होली मिलन पर रोक लगा दी है. होलिका दहन बिना भीड़ के होगा. दिल्ली में होली, शब-ए-बारात के दौरान सार्वजनिक उत्सव और सभा पर रोक लगाई गई है.

भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 62,714 नए मामले सामने आए. यह इस वर्ष की अब तक की सर्वाधिक संख्या है. पिछले साल 16 अक्टूबर को 24 घंटे के अंतराल में संक्रमण के 63,371 नए मामले सामने आए थे. सभी जिलों में जांच काफी बढ़ाने के अलावा, इस रणनीति में संक्रमितों को अलग रखने, उनके संपर्क में आये व्यक्तियों की पहचान करने, सरकारी एवं निजी स्वास्थ्य संसाधनों को स्थिति के हिसाब से तैयार करने, कोविड अनुकूल आचरण का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने, और संक्रमण से प्रभावित जिलों में जोर-शोर से वैक्सीनेशन चलाने पर बल दिया गया है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण की अध्यक्षता में 12 राज्यों के अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव और सचिव (स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण) और कोरोना के सर्वाधिक मामलों और मृत्यु से जुड़े 46 जिलों के निगम आयुक्तों और जिलाधिकारियों की एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक हुई. उसके बाद इस रणनीति को अंतिम रूप दिया गया. ये 12 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश महाराष्ट्र, गुजरात, हरियाणा, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, दिल्ली, जम्मू कश्मीर, कर्नाटक, पंजाब और बिहार हैं.

केंद्र ने कोरोना की प्रभावी रोकथाम व प्रबंधन के संदर्भ में राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के लिये पांच स्तरीय रणनीति बनाई है. सरकार ने कहा कि मई 2020 के बाद से कोविड-19 संक्रमण और उससे होने वाली मृत्यु के साप्ताहिक मामलों में सबसे ज्यादा तेजी देखी गई है. सरकार ने कहा कि ज्यादा ध्यान उन 46 जिलों में है, जहां से इस महीने संक्रमण के कुल मामलों का 71 प्रतिशत और इनसे होने वाली मौत के मामले में 69 प्रतिशत मामले सामने आए.

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि महाराष्ट्र के कुल 36 जिलों में से 25 सबसे ज्यादा प्रभावित हैं और यहां से देश में बीते एक हफ्ते में सामने आए कुल मामलों में से 59.8 प्रतिशत मिले हैं. बयान के मुताबिक, बैठक में इन राज्यों एव केंद्र शासित प्रदेशों के प्रभावित जिलों का विश्लेषण और कुछ अहम सांख्यिकीय आंकड़े पेश किये गए. बयान के मुताबिक कोविड-19 से होने वाली मौत के मामलों में लगभग 90 प्रतिशत मामले 45 साल ये ज्यादा आयु वर्ग वालों के हैं.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Next Post

त्रिपुरा राज्यपाल रमेश बैस ने छत्तीसगढ़ वासियों को होली की शुभकामनाएँ दी

रायपुर : त्रिपुरा के राज्यपाल रमेश बैस ने रंगों के त्यौहार होली पर छत्तीसगढ़ वासियों को होलिका दहन और होली की शुभकामनाएँ दी है और सभी की खुशहाली के लिए प्राथना की है साथ ही त्रिपुरा समेत पुरे देशवासियों को शुभकामनाएं दी.. और कामना की कि यह त्‍योहार सभी लोगों […]

You May Like