दिल्ली में प्रदूषण का स्तर घटा, लेकिन वायु गुणवत्ता \’बहुत खराब\’ श्रेणी में…

5

नई दिल्ली: दिल्ली की वायु गुणवत्ता में महत्वपूर्ण सुधार के साथ, सेंट्रल पैनल ने रविवार को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में वायु प्रदूषण से निपटने के लिए लागू आपातकालीन प्रतिक्रिया कार्य योजना ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (GRAP) के चरण IV को हटा लिया. यह कदम उठाया गया क्योंकि दिल्ली की वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 6 नवंबर को 339 (‘बहुत खराब’ श्रेणी) पर था, जो जीआरएपी चरण-IV के तहत जरूरी उपायों को लागू करने के लिए​ निर्धारित सीमा से 111 अंक नीचे था. ग्रैप-IV के उपायों को 3 नवंबर को लागू किया गया था, जब दिल्ली का AQI ‘गंभीर +’ श्रेणी (AQI> 450) के करीब पहुंच गया था.

GRAP के चौथे चरण के तहत, दिल्ली-एनसीआर में ट्रकों के साथ ही डीजल से चलने वाले हल्के मोटर वाहनों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। यह केंद्रीय पैनल की प्रदूषण विरोधी कार्रवाई का अंतिम चरण था. हालांकि, BS-VI वाहनों और आवश्यक और आपातकालीन सेवाओं के लिए उपयोग किए जाने वाले वाहनों को छूट दी गई थी. पैनल ने पूर्वानुमानों का हवाला देते हुए कहा कि अगले कुछ दिनों तक हवा की गुणवत्ता इसी श्रेणी में रहेगी. अत: ग्रैप चरण III के सभी उपाय अब से पूरे दिल्ली एनसीआर में लागू होंगे. ग्रैप-IV हटने के बाद दिल्ली में प्राइमरी स्कूलों के खुलने की उम्मीद है. साथ ही BS-III वाहनों को भी एंट्री मिलेगी.