ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग में मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास को गिरफ्तार किया…

5

नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने धनशोधन के एक मामले में मऊ से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के विधायक और गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी को गिरफ्तार कर लिया है।

अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 30 वर्षीय अब्बास अंसारी को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में ईडी कार्यालय में हुई लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया गया। अधिकारियों ने कहा कि उन्हें उनके पिता और परिवार के खिलाफ दर्ज धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया गया है।

पिछले महीने, ईडी ने मुख्तार अंसारी की 1.48 करोड़ रुपये (रजिस्ट्री मूल्य) की सात अचल संपत्तियां कुर्क की थीं। पांच बार विधायक रह चुके मुख्तार अंसारी (59) इस समय उत्तर प्रदेश के बांदा की जेल में बंद हैं। ईडी ने पिछले साल इस मामले में उनसे पूछताछ की थी।

एजेंसी ने अगस्त में उनके बड़े भाई और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सांसद अफजाल अंसारी के दिल्ली स्थित सरकारी आवास और गाजीपुर, मोहम्मदाबाद (गाजीपुर जिले में), मऊ और लखनऊ में कुछ स्थानों पर छापेमारी की थी। उत्तर प्रदेश में मुख्तार अंसारी के खिलाफ कई मामले दर्ज हैं, जिनके सिलसिले में धनशोधन का यह मामला दर्ज किया गया था।

इसके अलावा उनकी पत्नी और कुछ संबंधियों द्वारा संचालित (भागीदारी कंपनी) विकास कंस्ट्रक्शन के खिलाफ भी दो मामले दर्ज हैं। मुख्तार अंसारी कम से कम 49 आपराधिक मामलों में ईडी की जांच के दायरे में हैं, जिनमें जमीन हथियाने, हत्या और जबरन वसूली के आरोप शामिल हैं। वह उत्तर प्रदेश में हत्या के प्रयास और हत्या सहित कई मामलों में मुकदमे का सामना कर रहे हैं।

पुलिस के अनुसार, अगस्त में गाजीपुर जिला प्रशासन ने कथित अवैध कमाई का उपयोग करके खरीदे गए मुख्तार अंसारी के 1.901 हेक्टेयर और छह करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के दो भूखंडों को जब्त कर लिया था। जुलाई में उत्तर प्रदेश पुलिस ने गैंगस्टर अधिनियम के तहत अफजाल अंसारी की 14.90 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क कर ली थी।

youtube channel thesuccessmotivationalquotes