गुवाहाटी. केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को युवाओं का आह्वान किया कि वे \”रोजगार पैदा करने वाले\” बनें और प्राप्त ज्ञान का उपयोग देश के लाभ के लिए करें. इसके साथ ही उन्होंने सभी क्षेत्रों में समाधान खोजने के लिए शोध और प्रौद्योगिकी के उपयोग पर भी बल दिया.

गडकरी यहां असम रॉयल ग्लोबल यूनिर्विसटी के दूसरे दीक्षांत समारोह को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा, \”युवाओं को केवल धन सृजक नहीं बल्कि रोजगार सृजक भी बनना चाहिए.\” उन्होंने कहा कि ज्ञान और शोध का उपयोग करके, युवा समाज की ताकत बन सकते हैं और विभिन्न चुनौतियों का समाधान दे सकते हैं जिससे देश को फायदा होगा.

गडकरी ने कहा कि युवा, \”रोजगार सृजक’’ बनकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के \’आत्मनिर्भर भारत\’ के दृष्टिकोण को पूरा कर सकते हैं.
उन्होंने कहा, \”हमारे ग्रामीण और आदिवासी क्षेत्रों एवं कृषि क्षेत्र में समस्याएं हैं. हमें इनका समाधान खोजने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग करने की जरूरत है.\” उन्होंने संसाधनों के उपयोग और उचित मार्गदर्शन के लिए सभी क्षेत्रों में मजबूत नेतृत्व की आवश्यकता पर भी जोर दिया.

गडकरी ने कहा, \”ज्ञान को धन में बदलना महत्वपूर्ण है. मैं कबाड़ को धन में बदलने में विश्वास करता हूं. कोई भी व्यक्ति या सामग्री बेकार नहीं होती है. क्षमता का पता लगाने के लिए नेतृत्व की आवश्यकता होती है.\” मंत्री ने युवाओं का आ’’ान किया कि वे ईमानदारी, जवाबदेही और पारदर्शी तरीके से काम करें तथा निर्णय लेने या सौंपे गए कार्यों को पूरा करने में संकोच या शिथिलता नहीं बरतें.

youtube channel thesuccessmotivationalquotes