पण्डरी हाट बाजार में लगी छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग की भव्य एवं आकर्षक प्रदर्शनी

vedantbhoomidigital
0 0
Read Time:5 Minute, 39 Second

प्रदर्शनी में खादी वस्त्रों पर 30 प्रतिशत और ग्रामोद्योग उत्पादों पर 10 प्रतिशत की विशेष छूट

15 दिनों तक प्रदर्शनी स्थल पर होंगे संध्याकालीन छत्तीसगढ़ी सांस्कृतिक कार्यक्रम

बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र तिवारी ने किया प्रदर्शनी का शुभारंभ

छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र तिवारी ने आज पण्डरी स्थित छत्तीसगढ़ हाट बाजार में छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड एवं खादी तथा ग्रामोद्योग आयोग के सौजन्य से आयोजित होने वाली 15 दिवसीय प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। इस प्रदर्शनी में खादी वस्त्रों की खरीदी पर 30 प्रतिशत की छूट और ग्रामोद्योग निर्मित सामग्रियों की खरीदी पर 10 प्रतिशत की छूट मिलेगी। खरीददारों का प्रतिदिन लक्की ड्रॉ निकाला जाएगा।

लक्की ड्रा के विजेताओं को जंगल सफारी की मुफ्त टिकट और अन्य आकर्षक इनाम दिए जाएंगे। शुभारंभ अवसर पर छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मण्डल के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा, छत्तीसगढ़ हाथकरघा संघ के अध्यक्ष  मोतीलाल देवांगन, रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष सुभाष धुप्पड़, राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष महेन्द्र छाबड़ा, पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष शैलेष नितिन त्रिवेदी उपस्थित थे।

कार्यक्रम के दौरान बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशानुरूप और ग्रामोद्योग मंत्री गुरू रूद्रकुमार के मार्गदर्शन में खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा उत्पादित सामग्रियों की मार्केटिंग और प्रचार-प्रसार के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। समय-समय पर विक्रय सह-प्रदर्शनी का आयोजन इसी प्रयास की एक कड़ी है।

प्रदर्शनी के माध्यम से शिल्पियों एवं स्व सहायता समूहों के उत्पाद का प्रदर्शन एवं विक्रय होने से उन्हें प्रोत्साहन एवं लाभ मिलता है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा उत्पादित सामग्रियों को बेहतर बाजार उपलब्ध कराकर देश-विदेश में भी पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ की कला, संस्कृति और परम्परा को संजोकर रखने का जो प्रयास किया जा रहा है, वह अनुकरणीय है।

राजेन्द्र तिवारी ने खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड में संचालित गतिविधियों की सराहना करते हुए कहा कि टीम अच्छी हो तो सुपरिणाम आने में देर नहीं होती। छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड कोविड संक्रमण काल की विषम परिस्थितियों में भी 4.50 लाख लोगों को स्वरोजगार उपलब्ध कराया है। राज्य में छोटे-छोटे प्रोसेसिंग यूनिट और कुटीर उद्योगों की स्थापना की जा रही है। इस कड़ी में बोर्ड द्वारा रोजगार सृजन कार्यक्रम अंतर्गत 80 लघु कुटीर उद्योग की स्थापना की गई है। इस 15 दिवसीय प्रदर्शनी में महिला स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार किए गए विविध वस्तुओं के 75 स्टॉल लगाए गए हैं, जिसका उद्देश्य इन सामग्रियों को विक्रय हेतु बाजार उपलब्ध कराना एवं स्वावलंबन की दिशा में अग्रसर करना है।

छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड के प्रबंध संचालक राजेश सिंह राणा ने बताया कि इस प्रदर्शनी में प्रतिदिन संध्याकाल में छत्तीसगढ़ी लोक सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान छत्तीसगढ़ के लोक कलाकारों द्वारा पारम्परिक मनमोहक नृत्य और छत्तीसगढ़ी गीत प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर खादी तथा ग्रामोद्योग आयोग के सलाहकार एस.एस. त्रिभुवन, संचालक ग्रामोद्योग बोर्ड सुधाकर खलखो, हस्तशिल्प विकास बोर्ड के महाप्रबंधक शंकरलाल धुर्वे, अनुप प्रताप एक्का,जे.एस. मरकाम सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते प्रकरणों को देखते हुये मुख्यमंत्री बघेल ने एयरपोर्ट और महाराष्ट्र सीमा में थर्मल स्क्रीनिंग के दिये निर्देश

रायपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महाराष्ट्र में कोविड-19 के बढ़ते प्रकरणों को देखते हुए राजधानी रायपुर के एयरपोर्ट और महाराष्ट्र बॉर्डर में कोरोना की थर्मल स्क्रीनिंग करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कोरोना के बढ़ते प्रकरण को देखते हुए प्रदेशवासियों से कोरोना संक्रमण से बचने हेतु पूर्व […]