किसान आंदोलन : 26 जनवरी को ट्रेक्टर मार्च निकालने पर अड़े किसान, सुप्रीम कोर्ट में फैसला आज

vedantbhoomidigital
0 0
Read Time:2 Minute, 8 Second

नई दिल्ली: केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले 54 दिन से आंदोलन कर रहे किसानों का कहना है कि वे गणतंत्र दिवस के अवसर पर दिल्ली में अपनी ट्रैक्टर परेड निकालेंगे और इस कार्यक्रम के आयोजन में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है. वहीं आज देश कि सबसे बड़ी अदालत तीनों कृषि कानूनों और किसानों के प्रदर्शन पर सुनवाई करेगी.किसान आंदोलन : 26 जनवरी को ट्रेक्टर मार्च निकालने पर अड़े किसान, सुप्रीम कोर्ट में फैसला आज

रविवार को किसान संगठनों के नेता योगेंद्र यादव ने सिंघू बार्डर पर कहा कि हम 26 जनवरी को दिल्ली में बाहरी रिंग रोड पर एक ट्रैक्टर परेड करेंगे. परेड बहुत शांतिपूर्ण होगी. गणतंत्र दिवस परेड में कोई भी बाधा नहीं आएगी. किसान अपने ट्रैक्टरों पर राष्ट्रीय झंडा लगायेंगे. प्राधिकारियों ने किसानों द्वारा प्रस्तावित ट्रैक्टर मार्च या ऐसे किसी अन्य तरह के विरोध प्रदर्शन पर रोक की मांग को लेकर शीर्ष अदालत का दरवाजा खटखटाया है, ताकि 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह में किसी किस्म की बाधा न आये.

सर्वोच्च न्यायालय गतिरोध को समाप्त करने के लिए बनाई गई समिति के एक सदस्य के खुद को अलग कर लेने के मामले पर भी गौर कर सकती है. अदालत दिल्ली पुलिस द्वारा दाखिल की गयी केंद्र सरकार की उस याचिका पर भी सुनवाई करेगी, जिसमें 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर प्रस्तावित ट्रैक्टर या ट्रॉली मार्च या किसी अन्य तरह के प्रदर्शन पर रोक लगाने का आग्रह किया गया है.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Next Post

कमी रास्ते की नहीं, राजनीतिक इच्छा शक्ति और मानवीय भावनाओं के अकाल की है : बादल सरोज

आलेख : बादल सरोज अब तक की प्रतिक्रियाओं से साफ़ हो गया है कि किसी भी तरह किसान आंदोलन की धधकती आग पर पानी डालने का केंद्र सरकार का आख़िरी ब्रह्मास्त्र भी खाली चला गया है। सुप्रीम कोर्ट को बीच में लाकर किसानों को घर भेजने और इस तरह थोड़ी […]

You May Like