मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने प्रभार जिलों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की समीक्षा

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्याग मंत्री ने कोरोना संक्रमण से बचाव और वैक्सीनेशन तथा जन-जागरूकता लाने की अपील की

रायपुर : लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्र कुमार ने अपने प्रभार वाले जिले कोंडागांव, कांकेर और नारायणपुर के कलेक्टरों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना संक्रमण की स्थिति और वैक्सीनेशन को लेकर समीक्षा की। इस वर्चुअल बैठक में उन्होंने जिलों में कोविड-19 के मरीजों के उपचार हेतु वेन्टिलेटर, आईसीयू, ऑक्सीजन बेड एवं सामान्य बेड की उपलब्धता, वैक्सीनेशन की अद्यतन प्रगति, उपचार के लिए आवश्यक दवाईयों एवं उपकरणों की उपलब्धता सहित कोरोना संक्रमण को रोकने संबंधी की गई आवश्यक तैयारियों की विस्तृत जानकारी ली।

मंत्री गुरु रूद्र कुमार ने राज्य में बढ़ते मामलों को देखते हुए अस्पताल में बेड्स, वेंटिलेटर की संख्या बढ़ाने और ऑक्सीजन सप्लाई की स्थिति पर भी चर्चा की एवं अधिकारियों को आवश्यक दिशानिर्देश दिए। मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने विभिन्न समाज के प्रमुखों, समाज सेवी संगठन तथा व्यापारी संघ के प्रमुखों से कोरोना संक्रमण से बचाव और वैक्सीनेशन तथा जन-जागरूकता लाने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस विश्वव्यापी संकट से निपटने के लिए सभी की सहभागीता आवश्यक है।

वर्चुअल बैठक

मंत्री गुरु रूद्र कुमार ने वर्चुअल बैठक में जिलेवार समीक्षा करते हुए कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए आगामी कार्ययोजना पर भी विस्तृत चर्चा की। उन्होंने टीकाकरण कार्य में तेजी लाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। नारायणपुर जिले में अन्य जिलों की तुलना में सबसे कम वैक्सीनेशन हुआ है। इसके लिए मंत्री गुरु रूद्र कुमार ने वैक्सीनेशन की गति को बढ़ाने के निर्देश दिए और तीन दिवस के भीतर रिपोर्ट प्रस्तुत करने की बात कही। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नारायणुर जिले में कोविड-19 के मरीजों की संख्या कम है, फिर भी सतर्क रहें और अन्य जिले से पहुंच रहे लोगों की लगातार जांच करते रहें और सीमावर्ती जिलों में आने वाले लोगों की आवश्यक रूप से जांच कर ही जिले में प्रवेश सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

इस वर्चुअल बैठक में कांकेर जिले के प्रभारी सचिव अंकित आनंद, कोंडागांव-नारायणपुर जिले की प्रभारी सचिव एवं राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की एमडी डॉ. प्रियंका शुक्ला सहित कांकेर, कोंडागांव और नारायणपुर जिले के वरिष्ठ अधिकारियों, जनप्रतिनिधि, समाज सेवी संगठन एवं व्यापारी संघ के प्रमुख उपस्थित थे।