बुनियादी साक्षरता प्रवेशिका एवं स्वयंसेवी शिक्षक मार्गदर्शिका के साथ शिक्षार्थियों की फोटो अपलोड कर मानीटरिंग की जाएगी

vedantbhoomidigital
0 0
Read Time:4 Minute, 37 Second

रायपुर। पढ़ना लिखना अभियान के तहत पब्लिक फायनेंस मैनेजमेंट सिस्टम हेतु राज्य स्तरीय बैठक का आयोजन राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण छत्तीसगढ़ के संचालक डी. राहुल वेंकट के निर्देशन में किया गया। इस अवसर पर एसएलएमए के असिस्टेंड डायरेक्टर एवं पढ़ना लिखना अभियान के नोडल अधिकारी प्रशांत पाण्डेय ने कहा कि अभियान के तहत पुरे प्रदेश में निर्धारित लक्ष्य की सम्पूर्ण जानकारी सीजीस्कूलडाॅटइन पोर्टल पर अपलोड कर दी गई है।

शिक्षार्थियों हेतु बुनियादी साक्षरता प्रवेशिका आखर झांपी एवं स्वयंसेवी शिक्षक मार्गदर्शिका को जिलो में उपलब्ध किया गया है। प्रवेशिका व मार्गदर्शिका के साथ शिक्षार्थियों व स्वयंसेवी की पोर्टल में फोटो अपलोड कर सघन मानीटरिंग की व्यवस्था भी की गई है। 24 पाठों के ई-प्राइम, ई- प्रशिक्षण सामग्री, वीडियों , प्रशिक्षण नियमावली टी-1 व टी-2 , समय सारणी, पंजीयन प्रपत्र, फीडबैक, प्रमाण पत्र सहित आवश्यक समस्त सामग्री पोर्टल एवं यू-ट्यूब में आसानी से उपलब्ध है।

पाण्डेय ने आगे बताया कि चूंकि इस अभियान में कुशल प्रशिक्षकों की भूमिका मानीटरिंग व मूल्यांकन में अहम स्थान दिया गया है इसे देखते हुए प्रदेश स्तर पर स्रोत व्यक्ति, कुशल प्रशिक्षक का उन्मुखीकरण तथा प्रशिक्षण पूर्ण कर लिया गया है एवं प्रदेश के ब्लाॅक स्तर तक स्वयंसेवी शिक्षकों का प्रशिक्षण कार्य अपने अंतिम पडाव में है। इसी कडी में ग्राम पंचायत प्रभारी व नगरीय निकाय अंतर्गत वार्ड प्रभारियों का चिन्हांकन कार्य पूर्ण कर लिया गया है।

आगामी समय में इन प्रभारियों का उन्मुखीकरण व प्रशिक्षण भी पुरा कर अभियान में उनकी महती जिम्मेदारी भी प्रदान कर दी जाएगी। प्रदेश स्तर पर एससीईआरटी में राज्य साक्षरता केन्द्र व जिलों के डाइट में जिला साक्षरता केन्द्र का गठन कर लिया गया है। जो कि इस अभियान में सम्पूर्ण अकादमिक प्रदान करेगा। इस अभियान के सुचारू संचालन हेतु अंतर्राष्ट्रीय संस्था यूनिसेट से भी एमओयू पूर्ण कर लिया गया है। एवं , सामाजिक संस्था समर्थ व प्रथम का भी विशेष सहयोग मिल रहा है।

इस अभियान के अंतर्गत फंड के सुचारू तरीके से क्रियान्वयन हेतु एचडीएफसी बैंक के शाखा प्रबंधक आफताब अहमद, एरिया हेड अभय कुमार सिंग व सहायक प्रबंधक रंजित पाण्डा ने जिलों के जिला शिक्षा अधिकारी, जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण के जिला परियोजना अधिकारी, लेखा कार्य के कर्मचारी एवं प्रत्येक जिले के एक तकनीकी कर्मचारी को पब्लिक फायनेंस मैनेजमेंट सिस्टम (पीएफएमएस) को पीपीटी के माध्यम बताया।

बैठक के दौरान बैंक के अधिकारियों ने यूसरनेम व पासवर्ड बनाने एवं आगे की प्रक्रिया को स्टेप बाइ स्टेप स्वयं करके दिखाया व उन्हें एक दिन का होमवर्क भी दिया । एक दिन के होमवर्क उपरांत पुनः बैठक द्वारा पीएफएमएस के क्रियान्वयन को अंतिम रूप प्रदान किया जाएगा। इस बैठक में राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण से परियोजना सलाहकार सुनील राॅय, नेहा शुक्ला एवं महेश कुमार वर्मा का विशेष सहयोग रहा।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

मुख्यमंत्री भूपेश ने प्रदेशवासियों से की कोरोना से बचाव के उपायों का कड़ाई से पालन करने की अपील

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों से कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों का कड़ाई से पालन करने और पात्रतानुसार टीकाकरण के कार्य में सहयोग की अपील की है। उन्होंने कहा है कि कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई की सफलता के लिए यह जरूरी है कि पात्रतानुसार सभी लोग […]

You May Like