प्रधानमंत्री शरीफ, गृहमंत्री सनाउल्ला और मेजर जनरल फैसल ने मेरी हत्या का प्रयास किया : इमरान खान

7

लाहौर. पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को दावा किया कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, गृहमंत्री राणा सनाउल्ला और मेजर जनरल फैसल नसीर ने उनकी हत्या की साजिश रची और वे 2011 में हुई पंजाब के पूर्व गवर्नर सलमान तासीर की हत्या की तरह ही धार्मिक उन्मादियों के हाथों उनकी हत्या कराना चाहते थे.

पंजाब के वजीराबाद जिले में ‘हकीकी आजादी मार्च’ के दौरान 70 वर्षीय खान के कंटेनर पर दो बंदूकधारी हमलावरों द्वारा की गई गोलीबारी में उनके दाहिने पैर में गोली लगी है. जानलेवा हमले के बाद शौकत खानम अस्पताल से देश को पहली बार संबोधित करते हुए खान ने कहा कि उनकी हत्या की साजिश करने वाले चार अन्य लोगों की भी उन्होंने वीडियो बनायी है.

उन्होंने कहा, ‘‘चार लोगों ने मेरी हत्या की साजिश रची. मैंने एक वीडियो बनाया और इन लोगों को नामजद किया है. उसे विदेश में सुरक्षित रखा है.’’ उन्होंने कहा कि अगर उनके साथ कुछ गलत होता है तो वह वीडियो जारी किया जाएगा. खान ने कहा कि उन्हें इस जानलेवा हमले की साजिश का पता ‘भेदियों’ से चला. उन्होंने कहा, ‘‘मुझे कैसे पता चला? भेदियों ने मुझे बताया. वजीराबाद (हमले) से एक दिन पहले उन्होंने मेरी हत्या की योजना बनायी क्योंकि उन्हें मेरी रैलियों में बढ़ती हुई भीड़ दिखने लगी थी.’’ उन्होंने कहा कि गृहमंत्री ‘‘राणा सनाउल्ला, प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ और मेजर जनरल फैसल’ ने उनकी हत्या की साजिश रची.

खान ने हालांकि अपने दावों पर कोई सबूत पेश नहीं किया. पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के प्रमुख खान ने आरोप लगाया कि ‘‘सरकार और उसके आकाओं’’ ने उनकी हत्या की साजिश रची जैसी कि उन्होंने पंजाब के पूर्व गवर्नर तासीर के साथ की थी. उन्होंने कहा, ‘‘पहले उन्होंने मुझपर ईशंिनदा का आरोप लगाया… उन्होंने टेप बनाए और उन्हें जारी किया और पीएमएल-नवाज ने इसे बढ़ावा दिया, मुझे पता है कि यह कौन कर रहा था…’’

उन्होंने दावा किया, ‘‘डिजिटल दुनिया है,ऐसे में पता लगाना आसान है. इसलिए पहले यह दिखाया गया कि मैंने धर्म का अपमान किया और फिर उनकी योजना थी… जो उन्होंने वजीराबाद में किया… कि धार्मिक उन्मादियों ने इमरान खान की हत्या कर दी.’’ खान ने कहा कि उन्होंने इस साजिश के बारे में 24 सितंबर की रैली में जनता को बताया था. उन्होंने कहा, ‘‘यह (जानलेवा हमला) बिलकुल तय पटकथा के हिसाब से हुआ.’’ खान ने अपने संबोधन में कहा कि बृहस्पतिवार को हुए जानलेवा हमले में उनके दाहिने पैर में चार गोलियां लगीं.

खान ने कहा, ‘‘मुझे चार गोलियां लगीं.’’ क्रिकेट से राजनीति में आए खान का इलाज कर रहे डॉक्टर फैसल सुल्तान का कहना है कि खान के दाहिने पैर की टिबिया (पैर की मुख्य हड्डी) टूट गयी है. सुल्तान ने बताया, ‘‘स्कैन (एक्स-रे) में आपको दाहिने पैर में जो लाइन नजर आ रही है वह मुख्य धमनी (खून की नली) है. गोली का छर्रा उसके बहुत पास था.’’