पोलार्ड ने खिलाड़ी के तौर पर IPL को अलविदा कहा, मुंबई इंडियन्स के बल्लेबाजी कोच बने

7

नयी दिल्ली. टी20 क्रिकेट में सबसे आक्रामक खिलाड़ियों में से एक कीरोन पोलार्ड ने मंगलवार को लीग की शीर्ष  टीम मुंबई इंडियन्स के साथ 13 सत्र बिताने के बाद खिलाड़ी के तौर पर इंडियन प्रीमियर लीग के करियर को अलविदा कह दिया. वेस्टइंडीज के 35 साल के पोलार्ड आईपीएल में अभी कुछ और साल खेलना चाहते थे लेकिन पांच बार की चैंपियन टीम के साथ चर्चा के बाद उन्होंने आईपीएल से संन्यास लेने का फैसला किया.

पोलार्ड के नाम आईपीएल में 189 मैचों में 3412 रन है. उन्होंने 2010 में इस टीम के लिए पदार्पण किया था. वह हालांकि फ्रेंचाइजी के साथ जुड़े रहेंगे और टीम के नये बल्लेबाजी कोच होंगे. फ्रेंचाइजी से जारी बयान में पोलार्ड ने कहा, ‘‘ मेरे लिये यह फैसला करना आसान नहीं था क्योंकि मैं कुछ और साल खेलना चाहता था, लेकिन मुंबई इंडियंस के साथ चर्चा के बाद मैंने आईपीएल करियर को खत्म करने का फैसला किया.’’

उन्होंने कहा, ‘‘ इस अविश्वसनीय फ्रेंचाइजी ने इतना कुछ हासिल किया है और मैं समझता हूं कि अब उस में कुछ बदलाव की जरूरत है.  अगर मैं अब मुंबई की टीम के लिए नहीं खेलता हूं तो खुद को इस टीम के खिलाफ खेलते हुए नहीं देख सकता हूं. एक बार आप मुंबई इंडियन्स का हिस्सा बन जाते है तो हमेशा इसी के साथ रहते है.’’ पोलार्ड हालांकि यूएई में होने वाले ‘इंटरनेशनल लीग टी20’ में मुंबई की स्वामित्व वाली फ्रेंचाइजी के लिए खेलेंगे.

उन्होंने कहा, ‘‘यह मुंबई इंडियन्स के लिए भावनात्मक अलविदा नहीं है, हालांकि मैं आईपीएल में बल्लेबाजी कोच की भूमिका निभाने के साथ-साथ मुंबई इंडियन्स अमीरात के साथ खेलने के लिए तैयार हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरी करियर का यह अगला अध्याय वास्तव में रोमांचक है और मुझे खुद को खिलाड़ी से कोंिचग की भूमिका में आने की अनुमति देता है. मैं पिछले 13 सत्र से आईपीएल में सबसे बड़ी और सबसे सफल टीम का प्रतिनिधित्व करने पर बेहद गर्व, सम्मानित महसूस करता हूं.’’ इंडियन प्रीमियर लीग के पांच खिताब के अलावा पोलार्ड ने मुंबई इंडियन्स को 2011 और 2013 में चैम्पियन्स लीग का विजेता बनाने में भी मदद की. वह टीम में बल्लेबाजी को रोबिन सिंह की जगह लेंगे.

पोलार्ड ने कहा, ‘‘ मुझे मुंबई इंडियन्स में हमारे पास मौजूद कोचों, प्रबंधकों और अन्य सहयोगी स्टाफ को धन्यवाद देना चाहिए. अब मैं भी इसमें (सहयोगी स्टाफ) शामिल हो गया हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम वर्षों तक उनकी (सहयोगी स्टाफ) निरंतर कड़ी मेहनत, समर्पण और प्रतिबद्धता के बिना सफलता हासिल नहीं कर सकते थे . विशेष रूप से मैं अपने करीबी दोस्त रोबिन सिंह को उनकी अच्छी सलाह और मार्गदर्शन के लिए विशेष शुक्रिया करना चाहता हूं. पोलार्ड ने इस मौके पर प्यार, सम्मान और समर्थन के लिए अंबानी परिवार को धन्यवाद किया.

youtube channel thesuccessmotivationalquotes