नयी दिल्ली/जयपुर. कांग्रेस ने सोमवार को कहा कि जी-20 सम्मेलन में भारतीय जनता पार्टी के चुनाव चिन्ह कमल के फूल का इस्तेमाल, भारत के सांस्कृतिक प्रतीक के रूप में किये जाने के कदम का रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से बचाव करवाया गया है. पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट किया, ‘‘जी20 में भाजपा के चुनाव चिन्ह (कमल का फूल) को भारत के सांस्कृतिक प्रतीक के रूप में इस्तेमाल किए जाने के कदम का राजनाथ सिंह से बचाव करवाया गया है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हाथ (कांग्रेस का चुनाव चिन्ह) ग्रामीण और आदिवासी क्षेत्रों में गहन सांस्कृतिक प्रतीक है. अगर कांग्रेस सत्ता में हो तो क्या उचित रहेगा कि हाथ को सरकारी कार्यक्रमों में प्रतीक के रूप में इस्तेमाल किया जाए? निश्चित तौर पर नहीं.’’ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कांग्रेस पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अनावरण किए गए जी-20 के लोगो पर कमल के चित्र को लेकर अनावश्यक विवाद पैदा किया गया. भारत एक दिसंबर को जी-20 के मौजूदा अध्यक्ष इंडोनेशिया से शक्तिशाली समूह की अध्यक्षता ग्रहण करेगा. जी-20 या 20 देशों का समूह दुनिया की प्रमुख विकसित और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं का एक अंतर-सरकारी मंच है.

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से विचलित हुई भाजपा: गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी की \’भारत जोड़ो यात्रा\’ ने भाजपा को विचलित कर दिया है. गहलोत ने कहा कि धर्म के नाम पर राजनीति करना आसान है, लेकिन सब वर्गों को साथ लेकर राजनीति करना चुनौतीपूर्ण है. गहलोत ने यहां एक कार्यक्रम में देश के हालात पर ंिचता जताते हुए कहा कि धर्म के नाम पर राजनीति करना सबसे आसान होता है, लेकिन सब वर्गों व सब जातियों को लेकर राजनीति करना चुनौती भरा होता है.

केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इन लोगों ने देशवासियों को गुमराह कर रखा है, लेकिन अब लोग समझ गए हैं और लोगों ने गुजरात व हिमाचल प्रदेश में इसे महसूस किया होगा. उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘ये देशभक्ति के नाम पर पहले ऐसा माहौल बनाते थे, मानो यही राष्ट्रभक्त हैं, हम तो राष्ट्रभक्त हैं ही नहीं. उनकी पोल खुल गई. अब नाम नहीं ले रहे राष्ट्रभक्ति का. राष्ट्र तक का नाम नहीं ले रहे और धर्म की राजनीति भी जनता धीरे-धीरे समझ गई है.’’ उन्होंने आरोप लगाया कि ये भाजपा वाले सारी संस्थाओं को ध्वस्त करने में लगे हैं, ये फासीवादी लोग हैं जिनका लोकतंत्र में यकीन नहीं है.

गहलोत ने कहा,\’‘सबसे दुख की बात है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी क्यों नहीं समझ पा रहे हैं कि अगर आप इतिहास को कमजोर करेंगे और उसे तोड़ेंगे-मरोड़ेंगे, तो मानकर चलें कि आपके इतिहास से भी आने वाली पीढ़ियां वैसा ही व्यवहार करेंगी. आने वाली पीढ़ियां वही सीखती हैं जो उन्हें हम सिखाते हैं.\’’ उन्होंने कहा कि इन (भाजपा) नेताओं के जेहन में जहर भरा हुआ है, ये लोग कभी चाल-चरित्र-चेहरे की बात करते थे, लेकिन अब इनकी चाल, चेहरा व चरित्र बदल गया है.

गहलोत ने आरोप लगाया कि ये लोग (भाजपा) भयंकर भ्रष्टाचार कर रहे हैं, ये लोग देश को लूटते हैं और आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय का भी उपयोग कर रहे हैं. चुनावी बांड की आलोचना करते हुए गहलोत ने कहा,\’‘ … चुनावी बांड लेकर आ गए. एक तरफा पैसा मिल रहा है इन लोगों को. बाकी पार्टियों के पास कोई साधन नहीं रहा, बिना साधन के चुनाव लड़ो … लूट रहे हैं देश को और उच्चतम न्यायालय सुनवाई नहीं कर रहा. तीन साल बाद अब सुनवाई शुरू की है.’’

youtube channel thesuccessmotivationalquotes