कीव. रूसी हवाई हमलों ने बृहस्पतिवार को यूक्रेन को और अधिक नुकसान पहुंचाया, जिनमें एक बैराज के तबाह होने से ऊर्जा, बुनियादी ढांचे, अपार्टमेंट की इमारतों और एक औद्योगिक स्थल को नुकसान पहुंचा. अधिकारियों ने कहा कि देशभर में ड्रोन और मिसाइल हमलों में कम से कम चार लोगों की मौत हो गयी और पांच अन्य घायल हो गये.

वहीं संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने यूक्रेन से अनाज, खाद्य सामग्री और उर्वरक का काला सागर के रास्ते निर्यात करने के चार महीने पुराने समझौते के समाप्त होने से कुछ दिन पहले इसके विस्तार की घोषणा की. गुतारेस ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र खाद्य सामग्री और उर्वरक के निर्यात में अड़चन डालने वाले अवरोधकों को हटाने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है. इस्तांबुल में हुए समझौते का उद्देश्य खाद्य सामग्री तथा खाद के दाम कम करना और वैश्विक खाद्य संकट से बचना है.

कीव में शहर के सैन्य प्रशासन ने कहा कि हवाई बलों ने कम से कम दो क्रूज मिसाइलों तथा पांच ईरान-निर्मित ड्रोन को मार गिराया.
यूक्रेन में रूसी मिसाइलों ने पिछले कई हफ्तों में बृहस्पतिवार को पहली बार देश के दक्षिण ओडेसा क्षेत्र और निप्रो शहर को निशाना बनाया. ओडेसा के गवर्नर मैक्सिम मार्शेन्को ने यह जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि ओडेसा और निप्रो में मिसाइल दागे जाने के बाद रूस द्वारा यूक्रेन में एक बार फिर बड़े पैमाने पर मिसाइल हमले किए जाने की आशंकाओं के मद्देनजर पूरे देश में हवाई हमलों के प्रति सचेत करने वाले सायरन बजने लगे. मार्शेन्को ने मैसेंिजग ऐप टेलीग्राम पर बताया कि रूस ने एक बुनियादी ढांचे पर मिसाइल हमला किया. उन्होंने आगाह किया कि ‘रूस द्वारा यूक्रेन के पूरे क्षेत्र पर बड़े पैमाने पर मिसाइल हमले किए जाने का खतरा है.’ यूक्रेन के राष्ट्रपति कार्यालय के उप प्रमुख किरिलो टिमोशेंको के मुताबिक, निप्रो में भी कई जगहों पर हमले की सूचना मिली है, जहां दो बुनियादी ढांचों को निशाना गया और कम से कम एक व्यक्ति घायल हो गया.
कीव के गवर्नर ओलेक्सी कुलेबा ने कहा कि मध्य कीव क्षेत्र में वायु रक्षा प्रणालियां काम कर रही हैं.

वहीं, यूक्रेन के अलग-अलग हिस्सों में गोलाबारी की खबरों और देश में बड़े पैमाने पर मिसाइल हमलों की आशंका के बीच पोलतावा, खार्कीवस, खमेल्नित्स्की और रिव्ने क्षेत्र के अधिकारियों ने स्थानीय लोगों से बम रोधी आश्रयों में रहने की अपील की. रूस ने इससे पहले मंगलवार को यूक्रेन में कई मिसाइलें दागी थीं. उसने यूक्रेन के ऊर्जा प्रतिष्ठानों पर अब तक का सबसे बड़ा हमला किया था. बताया जा रहा है कि रूसी हमलों के दौरान एक मिसाइल पोलैंड की सीमा में भी जा गिरी थी और उसकी चपेट में आने से कई लोगों की मौत हो गई थी.

हालांकि, रूस ने पोलैंड में मिसाइल हमला करने के आरोपों को खारिज किया है. यूक्रेन के राष्ट्रपति कार्यालय के प्रमुख एंड्री यरमक ने बृहस्पतिवार को एक टेलीग्राम पोस्ट में ऊर्जा प्रतिष्ठानों पर हमले को ‘हारे हुए कायर लोगों की बचकानी रणनीति’ बताया. उन्होंने लोगों से हवाई हमलों के सायरन को नजरअंदाज नहीं करने की अपील करते हुए कहा, ‘‘यूक्रेन पहले ही दुश्मन के बेहद कठोर हमलों का डटकर सामना कर चुका है. इन हमलों के ऐसे नतीजे नहीं निकले, जिनकी रूस के कायरों को उम्मीद थी.’’

youtube channel thesuccessmotivationalquotes