बांकी मोंगरा की उपेक्षा और सड़क निर्माण को लेकर आम जनता ने किया जबरदस्त चक्का जाम और बंद, दबाव में आये एसईसीएल ने जारी किया टेंडर

vedantbhoomidigital
0 0
Read Time:4 Minute, 28 Second

बांकी मोंगरा (कोरबा)। बांकी मोंगरा की मेन माइंस से मेन मार्केट तक जर्जर सड़क और धूल डस्ट उड़ने से हो रही परेशानी का जवाब आज यहां की जनता ने चक्का जाम और अपनी दुकानें बंद रखकर दिया। इस बीच एसईसीएल के अधिकारी वार्ता के लिए दो बार आंदोलनकारियों के पास पहुंचे, लेकिन उन्हें बैरंग लौटना पड़ा, क्योंकि उन्होंने सड़क बनाने के लिए टेंडर देखे बिना और जर्जर सड़क पर पानी छिड़काव शुरू किए बिना चक्काजाम समाप्त करने से मना कर दिया। इसके बाद एसईसीएल प्रबंधन सड़क निर्माण के लिए आज ही 34 लाख रुपयों का टेंडर जारी करने को बाध्य हुआ, जिसकी एक प्रति अधिकारियों ने आंदोलन स्थल पहुंच कर सर्वदलीय मंच को सौंपी और तत्काल सड़क पर पानी का छिड़काव शुरू कराया।

एसईसीएल प्रबंधन की इस कार्यवाही के बाद ही सर्वदलीय मंच ने चक्का जाम आंदोलन समाप्त करने की घोषणा की। बांकी बाजार बंद और चक्का जाम जबरदस्त रूप से सफल रहा, जिसके लिए सर्वदलीय मंच ने सभी नागरिकों, व्यापारी वर्ग, राजनैतिक पार्टियों और संगठनों का आभार व्यक्त किया है।

उल्लेखनीय है कि सड़क और धूल की समस्या को लेकर यहां आम जनता में जबरदस्त आक्रोश है। माकपा ने बांकी मोंगरा की सड़क और धूल डस्ट की समस्या को लेकर चरणबद्ध आंदोलन करने की घोषणा की थी और 28 जनवरी को ढोल-नगाड़ा बजाकर प्रशासन से छेरछेरा में सड़क निर्माण की मांग की थी और आज चक्का जाम करने की घोषणा की थी। चक्काजाम से पहले सर्वदलीय मंच बनाकर इस मुद्दे पर माकपा, कांग्रेस, भाजपा, व्यापारी वर्ग, सामाजिक कार्यकर्ता और जन संगठन — सभी एक मंच पर आ गए। इस मुद्दे पर समर्थन देते हुए व्यापारियों ने भी बाजार बंद की घोषणा कर दी, जिससे चक्का जाम की घोषणा ने एक जन आंदोलन का रूप ले लिया।

व्यपारियों ने स्वतःस्फूर्त रूप से अपनी दुकानें बंद रखी और वे भी चक्का जाम में शामिल हो गए। सुबह 2 बजे से शुरू हुआ चक्का जाम दोपहर दो बजे तक चला। 6 घंटों के इस जाम में सड़क के दोनों ओर कोयला लदी सैकड़ों ट्रक खड़ी हो गई। इस अवसर पर हुई सभा को माकपा नेता प्रशांत झा, माकपा पार्षद सुरती कुलदीप, युवा नेता हुसैन अली, किसान सभा नेता जवाहर सिंह कंवर, नंदलाल कंवर, दीपक साहू, कांग्रेस के एल्डरमेन परमानंद सिंह, पार्षद पवन गुप्ता, प्रदीप अग्रवाल, राकेश, धर्मेंद्र गजभिये, मल्लू सिंह, भाजपा के भागवत विश्वकर्मा, पार्षद शैल राठौर, अश्वनी, लक्ष्ण दास, व्यापारी प्रकोष्ठ के उमेश अग्रवाल, पवन शर्मा, अशोक अग्रवाल, रमेश अग्रवाल, रविन्द्र, नरेश, कौशल, प्रमोद, गजाधर साहू, आयुष अहिरवार आदि ने संबोधित किया। सभी वक्ताओं ने विकास कार्यों में बांकी मोंगरा क्षेत्र की उपेक्षा किये जाने पर अपनी नाराजगी जाहिर की।

सर्वदलीय मंच की ओर से बोलते हुए माकपा नेता ने एसईसीएल द्वारा आज जारी सड़क निर्माण के टेंडर को आम जनता के आंदोलन की जीत बताया है और इस क्षेत्र के विकास के लिए और ज्यादा एकजुट होने की अपील की है। चक्काजाम को सफल बनाने में व्यपारी वर्ग का प्रमुख भूमिका रही।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Next Post

छत्तीसगढ़ में खेल को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार के खेल मंत्री से मुलाकात: राहुल गुप्ता 'माउंटेन मैन'

दिल्लीः छत्तीसगढ़ राज्य को खेल के क्षेत्र में प्रमोट करने के लिए भारत सरकार के खेल एवं युवा कल्याण मंत्री किरेन रिजुजू से दिल्ली स्थित निज निवास में मुलाकात हुई। इस बैठक में अंतरराष्ट्रीय स्तर के सीनियर पर्वतारोही और राज्य के इकलौते एवरेस्ट पर्वतारोही राहुल गुप्ता माउंटेन मैन, आशीष मेहरा […]

You May Like