राहुल गांधी के लिए सावरकर के मुद्दे को उठाने की कोई वजह नहीं थी, गठबंधन में पड़ सकती है दरार: राउत

9

मुंबई. उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना के प्रमुख नेता संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी के लिए स्वतंत्रता सेनानी वी डी सावरकर पर टिप्पणी करने की कोई वजह नहीं थी और इससे महा विकास आघाड़ी (एमवीए) में दरार पड़ सकती है. राउत ने संवाददाताओं से कहा कि सावरकर के खिलाफ कोई भी अपमानजनक बयान शिवसेना के लिए अस्वीकार्य नहीं है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को पूरे देश में, खासकर महाराष्ट्र में अच्छा समर्थन मिल रहा है.

राउत ने कहा, ‘‘वीर सावरकर का विषय उठाने की कोई वजह नहीं थी. इससे एमवीए में दरार पड़ सकती है, क्योंकि हम वीर सावरकर को आदर्श मानते हैं.’’ राहुल ने बृहस्पतिवार को राज्य के अकोला जिले में वाडेगांव में संवाददाताओं से बातचीत में आरोप लगाया था कि सावरकर ने अंग्रेजों की मदद की थी और डर की वजह से उन्हें माफीनामा लिखकर दिया था.

राउत ने कहा, ‘‘इस बयान ने न केवल शिवसेना को प्रभावित किया है, बल्कि महाराष्ट्र के कुछ कांग्रेस नेताओं को भी प्रभावित किया है. महाराष्ट्र के लोग और देश की जनता का बड़ा वर्ग वीर सावरकर के प्रति सम्मान रखते हैं.’’ उन्होंने कहा कि इतिहास को कुरेदने के बजाय राहुल को नया इतिहास रचना चाहिए.