आज जशपुर में संघ और जूदेव समर्थको का जमावड़ा, मोहन भागवत करेंगे स्व जूदेव की मूर्ति का अनावरण…

8

जशपुर: संघ सचालक मोहन भागवत रविवार शाम को ही जशपुर पहुंच चुके है। सोमवार को दोपहर 2 बजे मोहन भागवत के कर कमलों से स्व जूदेव की मूर्ति का अनावरण किया जाएगा। इस मौके पर न केवल जशपुर बल्कि प्रदेश भर के संघी और जूदेव समर्थको का जमावड़ा लगने जा रहा है। जिस हिसाब से आज के कार्यक्रम की तैयारी की गई है उस हिसाब से संघ प्रमुख को देखने ,सुनने और जूदेव प्रतिमा अनावरण का साक्षी बनने करीब एक लाख लोगो के जुटने की उम्मीद लगाई जा रही है । आज संघ प्रमुख के साथ साथ प्रदेश भर के भाजपा नेताओं को भी शामिल होना है । 

माना जा रहा है कि आज संघ प्रमुख मोहन भागवत के कार्यक्रम की शुरुआत स्व दिलीप सिंह जूदेव के राजमहल विजय बिहार पैलेस से शुरू होगी।तकरीबन 10 बजे सुबह संघ प्रमुख मोहन भागवत विजय बिहार पैलेस पहुचेंगे और सुबह का अल्पाहार पैलेस में ही होगा।अल्पाहार के बाद वह स्व जूदेव के परिवार के लोगों से मिलेंगे उसके बाद दोपहर 12 बजे जनजातीय गौरव के प्रतीक विरसा मुंडा की मूर्ति का वह माल्यार्पण करेंगे फिर दोपहर 2 बजे संघ प्रमुख सीधे जूदेव की प्रतिमा के पास पहुचेंगे और उनके द्वारा स्व दिलीप सिंह जूदेव के बहुप्रतीक्षित आदमकद प्रतिमा का अनावरण किया जाएगा। अनावरण के बाद रंजीता स्टेडियम से उनका संबोधन होना है।

माना जा रहा है कि संघ प्रमुख की मौजूदगी में जूदेव प्रतिमा के अनावरण के बहाने संघ  छग में 2023 में होने वाले चुनाव का आज अघोषित  शंखनाद करने जा रही है।2003 में छग के पूर्वांचल क्षेत्र जशपुर से ही भाजपा का सूर्योदय हुआ था। 20 साल बाद आज फिर से संघ उसी इतिहास को दोहराने की तैयारी कर रहा है।

आपको बता दें कि 2003 में जशपुर रियासत के राजकुमार स्व दिलीप सिंह जूदेव ने छग से कांग्रेस की सरकार को सत्ता से बाहर करने का संकल्प लिया था और इस चुनाव में कांग्रेस सत्ता से बेदखल हो गई थी बल्कि कांग्रेस को 15 वर्षो तक सत्ता से दूर रहना पड़ा था। 2013 में स्व दिलीप सिंह जूदेव के देहांत के बाद   2018 में कांग्रेस की फिर से सत्ता में वापसी हुई और भाजपा महज 15 सीटों पर सिमटकर रह गई थी।

2018 के चुनाव में भाजपा को मिली शर्मनाक पराजय के स्याह इतिहास को स्वर्णिम रूप देने आज संघ फिर से स्व जूदेव की सियासी जमीन जशपुर में हिंदुत्व का झंडा गाड़ने जा रहा है।

माना जा रहा है कि जशपुर में आज तक के इतिहास में इतना बड़ा आयोजन नहीं हुआ ।भाजपा इसे ऐतिहासिक आयोजन मान रही है और इस आयोजन को ऐतिहासिक रूप देने पूरे एक महीने से तैयारी की जा रही है थी ।इस आयोजन में ज्यादा से ज्यादा लोग आएं इसके लिए भाजपा नेता गांव गांव में जाकर लोगो के हाथ में हल्दी चावल देकर उन्हें आयोजन में शामिल होने न्योता दे रहे थे।