बिलासपुर. छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में प्रेत बाधा से मुक्ति देने के लिए कथित तांत्रिक एक व्यक्ति को लगातार चार दिनों तक ?गर्म त्रिशूल से दागता रहा. इसके बाद उस व्यक्ति की मौत हो गयी और पुलिस ने तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के मस्तूरी थाना क्षेत्र की पुलिस ने फेकूराम निर्मलकर (35) की हत्या के आरोप में लीलाराम रजक (45) को गिरफ्तार कर लिया है. उन्होंने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली है कि रतनपुर क्षेत्र के अंतर्गत पोड़ी गांव निवासी फेकूराम मानसिक रूप से बीमार था और पिछले चार माह से उसकी पत्नी गंगाबाई उसका इलाज करवा रही थी, लेकिन उसके स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं हुआ. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस बीच मस्तूरी क्षेत्र के अंतर्गत जूनवानी गांव के निवासी लीलाराम रजक ने दावा किया कि फेकूराम प्रेत बाधा का शिकार है और वह इससे मुक्ति दे सकता है.

उन्होंने बताया कि लीलाराम की बातों में आकर गंगाबाई अपने पति को 23 अक्टूबर को जूनवानी गांव ले गई और चार दिनों तक लीलाराम फेकूराम को गर्म त्रिशूल से दागता रहा. त्रिशूल से जलाने के कारण फेकूराम के शरीर में फफोले पड़ गए और उसकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई. इसके बाद गंगाबाई अपने पति को लेकर वापस अपने गांव पोड़ी आ गई, जहां 30 अक्टूबर को उसकी मौत हो गई.
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना के बाद रतनपुर थाने की पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और प्रकरण को मस्तूरी थाना भेज दिया. जहां की पुलिस ने लीलाराम को गिरफ्तार कर लिया है. उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है.

youtube channel thesuccessmotivationalquotes