संयुक्त राष्ट्र की परमाणु एजेंसी ने ‘डर्टी बम’ के रूसी दावे की जांच शुरू की

5

कीव. संयुक्त राष्ट्र की परमाणु ऊर्जा एजेंसी के विशेषज्ञ मंगलवार को दो स्थलों का निरीक्षण कर रहे हैं, जहां के बारे में रूस ने दावा किया था कि वहां ‘डर्टी बम’ बनाये जा रहे हैं. अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आईएईए) प्रमुख राफÞाएल मारियानो ग्रोस्सी ने एक बयान में कहा कि यूक्रेन में दो स्थानों पर निरीक्षण शुरू किया गया है और यह जल्द ही पूरा हो जाएगा. रूस के आरोपों के मद्देनजर यूक्रेन ने निरीक्षण करने का अनुरोध किया था.

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन सहित शीर्ष रूसी अधिकारियों ने ये आरोप लगाये थे कि यूक्रेन एक तथाकथित ‘डर्टी बम’ का इस्तेमाल करने की तैयारी कर रहा है. ‘डर्टी बम’ रेडियोधर्मी सामग्री वाला एक विस्फोटक होता है. संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत वसीली नेबंजिया ने (संयुक्त राष्ट्र) पिछले हफ्ते सुरक्षा परिषद को लिखे एक पत्र में आरोप लगाया था कि यूक्रेन का परमाणु अनुसंधान केंद्र और खनन कंपनी को (राष्ट्रपति वोलोदिमीर) जेलेंस्की के शासन से ‘‘एक डर्टी बम विकसित करने के सीधे आदेश मिले हैं.’’ पश्चिमी देशों ने आरोप को खारिज करते हुए इसे पूरी तरह से झूठा करार दिया था.

यूक्रेन के अधिकारियों ने आरोप को खारिज करते हुए इसे शत्रुता बढ़ाने को न्यायोचित ठहराने के लिए एक डर्टी बम का इस्तेमाल करने की अपनी (रूस की) कथित योजना से ध्यान भटकाने की कोशिश बताया. आईएईए ने कहा है कि दोनों स्थानों का निरीक्षण किया जा रहा है और वे आईएईए की निगरानी के दायरे में हैं तथा आईएईए के निरीक्षकों ने नियमित रूप से वहां का दौरा किया है.

एजेंसी ने सोमवार को एक बयान में कहा था, ‘‘आईएईए ने एक महीने पहले दो स्थानों में से एक का दौरा किया था और वहां कोई अघोषित परमाणु गतिविधि या सामग्री नहीं पाई थी.’’ वहीं, एक अन्य घटनाक्रम में यू्क्रेन के दक्षिणी शहर मायकोलैव में आधी रात के करीब रूसी मिसाइल हमले में एक व्यक्ति मारा गया और कई मकान नष्ट हो गये. मायकोलैव के गवर्नर विताली किम ने टेलीग्राम पर यह जानकारी दी.

मंगलवार तड़के उत्तर-पूर्वी यूक्रेनी शहर पोल्तावा विस्फोटों से दहल उठा. पोल्तावा के गवर्नर दमेत्रो लुनिन ने टेलीग्राम पर यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि शहर में असैन्य इमारतों पर चार रूसी ड्रोन दुर्घटनाग्रस्त हो कर गिर गये. तीन अन्य ड्रोन भी मार गिराये गये. हालांकि, किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है.

दीप्रोपेत्रोवस्क के गवर्नर वेलेंतीन रेजीनचेंको ने बताया कि बीती रात यूक्रेन के दक्षिण पूर्वी शहर पीकोपोल शहर पर रूस ने गोले दागे. करीब 40 गोले नीकोपोल में गिरे, जिससे 14 आवासीय इमारतों को नुकसान पहुंचा. रेजीनचेंको के मुताबिक, मारहानेत्स में बिजली आपूर्ति व्यवस्था को नुकसान पहुंचाया गया है और एक जलापूर्ति केंद्र को विद्युत आपूर्ति भी अस्थायी रूप से ठप्प हो गई है जिसके चलते करीब 40,000 परिवार पानी के बगैर और 10,000 परिवार बिजली के बगैर रह रहे हैं.