नयी दिल्ली. जेल में बंद ठग सुकेश चंद्रशेखर ने दिल्ली के उपराज्यपाल को पत्र लिखकर आरोप लगाया है कि आम आदमी पार्टी (आप) नेता सत्येंद्र जैन ने जेल में उसकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 2019 में 10 करोड़ रुपये वसूले थे. चंद्रशेखर के इस आरोप के बाद मंगलवार को आप और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच वाकयुद्ध तेज हो गया है. भाजपा ने दिल्ली की सत्ताधारी आप को ‘‘महा ठग’’ पार्टी करार दिया और आरोप लगाया कि पार्टी ने एक ठग से ठगी कर ली. वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल ने चंद्रशेखर के आरोप को खारिज करते हुए कहा कि यह मोरबी की घटना से ध्यान भटकाने का प्रयास है.

चंद्रशेखर 200 करोड़ रुपये के धनशोधन मामले में यहां मंडोली जेल में बंद है और उसने अपने वकील अशोक के सिंह के माध्यम से 8 अक्टूबर को उपराज्यपाल वी. के. सक्सेना को एक पत्र लिखकर चौंकाने वाले आरोप लगाये हैं. उपराज्यपाल कार्यालय के सूत्रों के अनुसार चंद्रशेखर का पत्र कार्यालय को मिला था और उसे आवश्यक कार्रवाई के लिए 18 अक्टूबर को दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव को भेज दिया गया.

पत्र में आरोप लगाया गया है कि चंद्रशेखर को दक्षिणी क्षेत्र में पार्टी में कोई महत्वपूर्ण पद देने और राज्यसभा के लिए नामांकन में मदद के लिए आप को 50 करोड़ रुपये से अधिक दिए गए. चंद्रशेखर ने आरोप लगाया कि 2017 में \’दो पत्ती चुनाव चिह्न भ्रष्टाचार मामले\’ में गिरफ्तारी के बाद उसे तिहाड़ जेल में बंद कर दिया गया था और जैन ने उससे मुलाकात की थी जो उस समय जेल विभाग के भी मंत्री थे. तिहाड़ जेल का संचालन दिल्ली सरकार का कारागार विभाग करता है.

चंद्रशेखर ने यह आरोप भी लगाया है, \”इसके बाद 2019 में सत्येंद्र जैन और उनके सचिव एवं उनके करीबी दोस्त सुशील ने फिर जेल में मुझसे मुलाकात की, मुझे जेल में सुरक्षित रखने तथा बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराने के लिए हर महीने दो करोड़ रुपये देने को कहा.’’ पत्र में आगे आरोप लगाया गया है, ‘‘इस प्रकार सत्येंद्र जैन को कुल 10 करोड़ रुपये और जेल महानिदेशक संदीप गोयल को 12.50 करोड़ रुपये दिए गए.’’ पत्र में यह भी कहा गया है कि चंद्रशेखर ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को यह जानकारी दी थी.

इन आरोपों पर गोयल की ओर से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है. भाजपा ने आप पर हमला बोलते हुए उसे ‘‘महा ठग’’ पार्टी करार दिया. भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने आरोप लगाया कि आम आदमी  पार्टी ने एक ठग से ठगी की है. पात्रा ने कहा, ‘‘ठग के घर ठगी कर ली. और ठग का नाम है सुकेश चंद्रशेखर. और ठग के घर में ठगी करने वाले का नाम आम आदमी पार्टी और सत्येंद्र जैन है.’’

केजरीवाल ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा, ‘‘पंजाब चुनाव से पहले, वह कुमार विश्वास के साथ आए. अब भाजपा ने गुजरात में अपनी खराब हालत के चलते सुकेश को खड़ा किया है. यह मोरबी की घटना से ध्यान भटकाने की भी कोशिश है.’’ दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी चंद्रशेखर के आरोपों को खारिज कर दिया. सिसोदिया ने एक संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि भाजपा गुजरात में अपनी सरकार के भ्रष्टाचारों के कारण र्शिमंदगी का सामना कर रही है, इसलिए उन्होंने जनता का ध्यान भटकाने के लिए एक गैंगस्टर को आगे किया है.

कांग्रेस ने ‘ठग’ सुकेश के दावे की उच्च स्तरीय जांच की मांग की

कांग्रेस ने ठगी के आरोप में जेल में बंद सुकेश चंद्रशेखर के दावे को लेकर मंगलवार को आम आदमी पार्टी (आप) पर निशाना साधा और कहा कि उपराज्यपाल वीके सक्सेना को इस मामले की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए. सुकेश चंद्रशेखर ने दावा किया है कि दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन ने जेल में उसकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 10 करोड़ रुपये की \’उगाही\’ की थी.

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने कहा, ‘‘खुद को कट्टर ईमानदार कहने वाले अरविन्द केजरीवाल और उनकी आम आदमी पार्टी की असलियत एक बार फिर जेल में बंद सुकेश चन्द्रशेखर ने उपराज्यपाल को पत्र लिखकर उजागर कर दी है. आम आदमी पार्टी और उसके नेताओं पर सुकेश चन्द्रशेखर द्वारा लगाए गए आरोपों की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए.’’

उन्होंने दावा किया, ‘‘सुकेश चन्द्रशेखर के आरोपों के बाद साफ हो गया है कि केजरीवाल ने जेल जाने के बावजूद सत्येन्द्र जैन को मंत्री पद से क्यों नहीं हटाया. अब यह स्पष्ट हो गया है कि आम आदमी पार्टी के फंड कलेक्टर ने माफिया डॉन की भूमिका निभाई है.’’

youtube channel thesuccessmotivationalquotes