चीन-US के सामने जेलेंस्की ने रूस को घेरा, बोले- हमारे नुकसान की भरपाई करो

6

नई दिल्ली: महीनों से जारी रूस-यूक्रेन जंग के बीच इंडोनेशिया के बाली में आज यानी मंगलवार को 20 देशों के शिखर सम्मेलन की शुरुआत हुई. जी20 समिट के पहले दिन यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पर हमला बोलते हुए जी-20 को बार-बार जी19 के नाम से संबोधित किया. जी-20 की बैठक को वर्चुअली संबोधित करते हुए यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा कि यह अब रूस के ‘विनाशकारी’ युद्ध को खत्म करने और हजारों लोगों की जान बचाने का समय है.

समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक, जेलेंस्की ने कहा कि मुझे विश्वास है कि अब वह समय आ गया है, जब रूसी ‘विनाशकारी’ युद्ध को रोका जाना चाहिए और इसे रोका जा सकता है और इससे हजारों लोगों की जान बचाई जा सकती है. इस दौरान उन्होंने बार-बार नेताओं को ‘G19’ के रूप में संबोधित किया. इसका मतलब है कि उन्होंने रूस को अलग रखकर जी20 को जी19 के नाम से संबोधित किया.

रूस पर हमला बोलते हुए जेलेंस्की ने यह भी कहा कि रूस को यूक्रेन की क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करना चाहिए, यूक्रेनी क्षेत्र से अपने सैनिकों को वापस लेना चाहिए और यूक्रेन को जो नुकसान हुआ, उसके लिए रूस को भुगतान करना चाहिए.

अपनी सेना की हरी टी-शर्ट पहने और यूक्रेनी में बोलते हुए जेलेंस्की ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन सहित जी20 के नेताओं को संबोधित किया. जेलेंस्की जब रूस पर हमला बोल रहे थे, उस वक्त रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन कमरे में नहीं थे, रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव मौजूद थे.

दरअसल, इस जी-20 शिखर सम्मेलन में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुति ने हिस्सा नहीं लिया है और उन्होंने अपनी जगह पर विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव को भेजा है. इंडोनेशिया के बाली शहर में आयोजित जी-20 शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी समेत विश्व के प्रमुख नेता शामिल हुए हैं. आज जी-20 बैठक में कोविड-19 वैश्विक महामारी और यूक्रेन पर रूस के हमले से उत्पन्न चुनौतियों पर चर्चा की गई.

youtube channel thesuccessmotivationalquotes